जागरण संवाददाता, हिसार : मानसून सक्रिय हुआ तो बुधवार को मोसम का मिजाज बदल गया। शहर में रुक रुक कर हुई बारिश के कारण दिनभर शहर के कई इलाकों में बिजली गुल रही। बिजली न आने के कारण इन्वर्टर भी जवाब दे गए। लोगों को अपने घरों में अंधेरे में दिन गुजारना पड़ा। उधर बिजली गुल होने की जब आमजन ने शिकायत की तो बिजली निगम के कर्मचारियों ने जवाब में कहा अभी आते है, जल्द ठीक कर देंगे और देर सायं को तो स्थिति यह बन गई कि उन्होंने जनता के फोन का जवाब देना भी बंद कर दिया। कई के तो फोन तक नहीं उठाए। ऐसे में बुधवार को दिन और देर रात को बिजली कट जनता की परेशानी का सबब बने रहे।

मेडिकल हब में भी दिनभर बत्ती रही गुल

हिसार का मेडिकल हब यानि ऋषि नगर में तो हालात ये थे कि जब दिनभर बिजली नहीं आने से परेशान क्षेत्रवासियों ने बिजली कर्मचारियों को शिकायत की ओर उस शिकायत पर कार्रवाई के बारे में जानने का प्रयास किया तो बिजली कर्मचारियों ने मोबाइल तक जवाब देना भी उचित नहीं समझा। सरजीत कौर ने आरोप लगाते हुए कहा कि एक तो बारिश ने पहले ही जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया। दिनभर बिजली कट के कारण परेशानी झेलनी पड़ी और जब शिकायत की तो कोई संतोषजनक जवाब देना तो दूर बार में फोन तक उठाने उचित नहीं समझे। यहीं हालात सेक्टर 9-11 और तारा नगर कालोनी थका था। मिलगेट में तो हालात ये थे कि घराें में बारिश और सीवरेज का गंदा पानी और ऊपर से दिनभर बिजली गुल। यानि एक तरफ गंदे पानी की बदबू और दूसरा अंधेरा लोगों का जीवन नरक जैसा बन गया था।

एसटीपी पर बिजली गुल

डाबडा रोड पर बने सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट यानि एसटीपी पर बुधवार को दिनभर बत्ती गुल रही। सुबह सवा आठ बजे लाइट गई थी और सायं तक बिजली गुल थी। ऊपर से उस क्षेत्र में डीसी को निरीक्षण करना था। ऐसे में जनरेटर के सहारे कर्मचारी को एसटीपी की 150-150 होर्स पावर की मोटरें चलानी पड़ी ताकि ड्रेनेज में से आसानी से पानी निकासी हो सके। डीसी ने तोशाम रोड पर बने एसटीपी का निरीक्षण किया और जनस्वास्थ्य विभाग के एसई को शहर में जल निकासी की व्यवस्था और सुधारने के आदेश दिए।

---शहर में बरसात आ जाए तो जनस्वास्थ्य विभाग के पास इस साल सीवरेज व ड्रेनेज व्यवस्था बेहतर करने का प्लान नहीं है। लेकिन बुधवार को हुई बरसात से लगता है कि बिजली निगम के पास भी मुश्किल वक्त में बिजली व्यवस्था को बेहतर करने का कोई प्लान भी नजर रही आ रहा है। जनता सीवरेज पानी के अलावा बिजली गुल होने से भी बहुत परेशान रही।

- मनोहर लाल, पार्षद एवं चेयरमैन, सब कमेटी, नगर निगम हिसार।

Edited By: Manoj Kumar