हिसार, जागरण संवाददाता। हरियाणा में प्री मानसून 20 से 25 जून तक आ सकता है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान पर गौर करें तो 2 जून के आसपास मानसून केरल तक पहुंचेगा। इसके बाद सब कुछ ठीक रहा तो प्री मानसून 20 से 25 जून तक आ सकता है। हालांकि मौसम विज्ञान में प्री मानसून जैसा कुछ नहीं होता है बल्कि मानसून के पहले आने वाली बारिश को ही अक्सर बाेलचाल की भाषा में प्री मानसून कहा जाता है। मौजूदा समय में अभी पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से बारिश हो रही है।

फसलों के लिए वरदान साबित होगी बारिश

एक दो दिन इसी प्रकार से बारिश और हवाएं चलने का अनुमान है। जिससे दिन के तापमान में कमी देखी जा सकती है। वहीं अगर किसानों की बात करें तो खेतों के लिए यह बारिश वरदान है। मार्च के बाद से अभी तक लगातार गर्मी पड़ने से खेती और बागवानी काफी प्रभावित हो रही थी। पिछले दिनों पश्चिमी विक्षोभ के कारण हुई बारिश के चलते किसानों को फसलों में काफी फायदा हुआ था। अब दोबारा से बारिश आती है तो भी किसानों को इसका लाभ ही मिलेगी। वहीं अगर ओलावृष्टि होती है तो किसानों को नुकसान हो सकता है। इसके साथ ही जहां फसल नहीं बोई गई है वहां पर बारिश से जमीन अच्छी होगी।

30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती हैं हवा

मौसम विज्ञानियों की मानें तो आने वाले एक दो दिन तक बारिश व 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चलने के आसार हैं। शनिवार तक ही मौसम परिवर्तित रहेगा। इसके बाद फिर से धूप निकलने की संभावना है। वहीं एक दो दिन बाद उत्तरी हरियाणा में हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। गौरतलब है कि बीते शुक्रवार को हिसार में दिन का तापमान सामान्य से दो डिग्री कम होकर 41 डिग्री सेल्सियस रहा। इसी प्रकार महेंद्रगढ़ के नारनौल में 41.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

Edited By: Naveen Dalal