नवीन वत्स, घिराय : हिसार जिला मुख्यालय से मात्र 10 किलोमीटर दूर पर गाव धान्सू की करीबन साठ ढाणियों में आजादी के इतने सालों बाद भी बिजली के दर्शन नहीं हुए। खेतों में ढाणियों में बसे हुए लोगों का कहना है कि उनके हालात आज भी आदिवासी से कम नहीं है। जागरूक ग्रामीणों ने बताया कि कई पार्टियों के नेता लोग आये और भरोसा दिया की जल्द ही आपको बिजली के दर्शन करवाएंगे लेकिन आज तक कुछ भी नहीं हुआ। आज भी हमारी ढाणियों के बच्चे लालटेन के सहारे पढ़ाई करने को मजबूर हैं। धान्सू गाव में धिगताना रोड की तरफ लगभग साठ घरों में आज भी बिजली की व्यवस्था नहीं है। ---16.30 लाख मंजूर हुये थे जो लैप्स हो गए लोगों का कहना है की बिजली रहित ढाणियों में बिजली पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा करीब 16 लाख 30 हजार रुपये की राशि मंजूर की गई थी। राशि मंजूर होने के बावजूद भी ढाणियों में ग्रामीण आज भी अंधेरे में जीवन-यापन करने को मजबूर हैं। धान्सू ढाणी के ग्रामीण रामप्रकाश बिश्नोई, सुरेश तरार, महावीर फौजी, विजय वर्मा, संदीप खलेरी, हनुमान रार, दलीप ¨सह हरडू, रामभगत भादू, मंगलाराम गाढ़ा, विकास गोदारा, संदीप बिश्नोई आदि ने बताया कि उनकी ढाणी के अधिकतर बच्चे बिजली न होने के कारण दीये की रोशनी में पढ़ने को मजबूर हैं। वहीं हरियाणा में भाजपा की सरकार दावा कर रही हैं कि हर ढाणी में बिजली पहुंच गई है। धासू गाव की ¨धगताना सड़क मार्ग पर स्थित लगभग 70 आस पास ढाणियों की अनेकों बार आश्वासन मिलने के बाद भी आज तक बिजली की सुविधा नहीं हुई है। जहा हरियाणा सरकार भी जगमग हरियाणा का नारा दे रही है। लेकिन यहा पर बिल्कुल भी लाइट की सुविधा नहीं है। इसलिए इन ढाणियों को बहुत परेशानी से जीवन यापन गुजारा करना पड़ रहा है। लेकिन अनेकों बार माग करने के बावजूद भी इन ढाणियों में आज तक लाइट नहीं पहुंची है। देखते हैं आखिर सरकार कब तक इन ढाणियों पर ध्यान देती है। ग्रामीणों रामप्रकाश बिश्नोई, सुरेंद्र राहड़, रोहतास, मंगतू, हवा ¨सह, पवन कुमार, श्री राम, संजय कुमार सहित अनेक लोगों का कहना है कि अब तो चुनाव का टाइम नजदीक आने वाला है इसलिए सरकार के नुमाइंदे घोषणा भी करेंगे और आश्वासन भी देंगे। लेकिन बिजली आने वाली नहीं है वैसे ग्रामीणों का कहना है कि यहा पर लाइट के विकल्प के तौर पर सौर ऊर्जा पर अगर सरकार सब्सिडी दे दे तो भी बहुत अच्छा रहेगा। इन ढाणियों में अगर सरकार बजट पास करके सौर ऊर्जा सिस्टम पर सब्सिडी देकर सौर ऊर्जा लगवा दें तो भी एक अच्छा कार्य होगा। ---मुझे इस बारे में कोई जानकारी ठीक पता नहीं है। इस संबंध में एरिया के एसडीओ को ज्यादा जानकारी मालूम है। - सुरेन्द्र पूनिया, जिला अध्यक्ष, भाजपा --हिसार के सासद दुष्यन्त चौटाला के समक्ष करीब 20 ढाणियों की बिजली कनेक्शन की समस्या की बाबत एक माग पत्र सासद को लिखकर दिया था, जिस पर सासद दुष्यन्त से मुलाकात कर फिर से समस्या के बारे में अवगत करवाया था। सासद ने गुड न्यूज देते जल्द ही समस्या का समाधान करने का भरोसा दिया था। - मनहोर लाल भाकर, सरपंच ---धासू की ढाणियों की बिजली कनेक्शन को लेकर की जानकारी मेरे संज्ञान में है। कनेक्शन कितने होंगे कुछ नहीं बता सकता। - संजय कुमार, एसडीओ, सातरोड सब डिवीजन, हिसार

Posted By: Jagran