जागरण संवाददाता, हिसार। हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि महाराजा अग्रसेन हिसार हवाई अड्डे को जल्द से जल्द इंटीग्रेटेड एविएशन हब के रूप में विकसित करना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा अपने स्तर पर 900 करोड़ रुपए की राशि का निवेश करने का निर्णय लिया गया है।

मंगलवार को महाराजा अग्रसेन हवाई अड्डे के रनवे निर्माण कार्यों का निरीक्षण करते हुए पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने यह बात कही। उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि मई 2022 तक हवाई अड्डे के रनवे के निर्माण कार्यों को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है और फिलहाल सभी परियोजनाएं ऑन टाइम चल रही है। उन्होंने कहा कि रनवे के विस्तार के चलते बरवाला तथा धांसू रोड के डायवर्जन को लेकर भी दो प्रपोजल तैयार किए गए हैं, क्षेत्र के गणमान्य लोगों के साथ बातचीत करके जल्द ही प्रपोजल को फाइनल कर लिया जाएगा।

उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि हवाई अड्डे के लिए पशुपालन विभाग द्वारा भी 3200 एकड़ भूमि के हस्तांतरण का निर्णय ले लिया गया है और जल्द ही यह भूमि हस्तांतरित हो जाएगी। हवाई अड्डे के आस-पास मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर बनाने की कार्य योजना तैयार की जा रही है, इसके बाद यहां मास्टर प्लान तैयार करके निवेश हेतु ऑक्शन प्रक्रिया को आरंभ किया जाएगा। फिलहाल चार मल्टीनेशनल कंपनियों ने निवेश में अपनी रुचि दिखाई है।

राज्य सरकार की योजना है कि हिसार हवाई अड्डे के आस-पास बड़े-छोटे जहाज की मेंटेनेंस और ओवरहालिंग जैसे कार्य हों, ताकि निवेश के साथ-साथ रोजगार के भी अवसर बने। निजी क्षेत्र में प्रदेश के युवाओं के आरक्षण के संबंध में पूछे गए प्रश्न का उत्तर देते हुए उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी तक इस दिशा में स्थापित किए गए पोर्टल पर लगभग 22 हजार युवाओं ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है।

इसके अलावा 11 कंपनियां भी रजिस्टर्ड हो चुकी है। यह लक्ष्य रखा गया है कि पोर्टल पर 1 हजार कंपनियों का रजिस्ट्रेशन हो। हिसार में एलिवेटेड रोड बनाए जाने के संबंध में पूछे गए एक अन्य प्रश्न का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा कि एलिवेटेड रोड सिरसा चुंगी से जिंदल ओवरब्रिज तक स्थापित किया जाएगा, जिस पर 5 से 6 इनलेट-आउटलेट होंगे। एलिवेटेड रोड की डीपीआर तैयार कर ली गई है, जिसकी स्वीकृति के उपरांत इस पर कार्य आरंभ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हांसी-रोहतक रेलवे लाइन का कार्य जल्द पूरा किए जाने की दिशा में गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं, साथ ही दिल्ली आईजीआई एयरपोर्ट तथा महाराजा अग्रसेन हिसार हवाई अड्डे के बीच एक एलिवेटेड रेलवे कॉरिडोर स्थापित करने की कार्य योजना का प्रस्ताव भी तैयार किया गया है।

इस कॉरिडोर के बनने के बाद 180 से 200 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेन इस रूट पर चलेंगी, जिससे यात्रा में लगने वाला समय काफी कम हो जाएगा। इस अवसर पर राज्य मंत्री अनूप धानक, विधायक जोगीराम सिहाग, नागरिक उड्डयन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधीर राजपाल, हरियाणा स्टेट इंडस्ट्रियल एंड इन्फ्राट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के एमडी विकास गुप्ता व हिसार की उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Edited By: Manoj Kumar