बहादुरगढ़, जेएनएन। तीन कृषि सुधार कानूनों के खिलाफ चार माह से अधिक समय से चल रहे आंदोलन की वजह से टीकरी बॉर्डर बंद है। कोरोना संक्रमण की वजह से रेल सेवा भी अब तक सुचारू रूप से शुरू नहीं हो पाई है। ऐसे में मेट्रो में यात्रियों की संख्या बढ़ गई है। ब्रिगेडियर होशियार सिंह मेट्रो स्टेशन पर दिल्ली जाने के लिए यात्रियों की भीड़ लगी रहती है। यहां से दिल्ली जाने के लिए रोहतक, सांपला, बहादुरगढ़, झज्जर, हिसार, सिरसा, भिवानी, जींद आदि क्षेत्रों से यात्री मेट्रो का सहारा ले रहे हैं। ऐसे में मेट्रो में भीड़ कई गुणा बढ़ गई है।

यात्री बढ़ने की एवज में इस लाइन पर न तो ट्रेनों की संख्या बढ़ाई गई है और ना ही दिल्ली मेट्रो की ओर से इस रूट पर मौजूदा ट्रेनों की फ्रीक्वेंसी बढ़ाई गई है। इस कारण भी मेट्रो में भीड़ हो जाती है, जिससे शारीरिक दूरी का नियम टूट रहा है और कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। दिल्ली-रोहतक दैनिक रेल यात्री समिति के प्रवक्ता सतपाल हाडा ने डीएमआरसी को टवीट कर इस रूट पर ट्रेनों की संख्या बढ़ाने व फ्रीक्वेंसी बढ़ाने की मांग की है ताकि कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोका जा सकते।

ब्रिगेडियर होशियार सिंह मेट्रो स्टेशन से ग्रीन लाइन पर दिल्ली के इंद्रलोक व कीर्ति नगर के लिए मेट्रो चलती है। इस पर लाइन दोनों रूटाें के लिए 12-12 यानी 24 ट्रेनें हैं। चार मिनट की फ्रीक्वेंसी है। पहले मेट्रो में इतनी भीड़ नहीं लगती थी लेकिन जब से टीकरी बॉर्डर बंद हुआ है, तब से ब्रिगेडियर होशियार सिंह मेट्रो स्टेशन से यात्रियों की संख्या बढ़ गई है। यात्रियों की संख्या बहादुरगढ़ सिटी व पंडित श्रीराम शर्मा मेट्रो स्टेशन से भी बढ़ी है, मगर इस लाइन का पहला मेट्रो स्टेशन ब्रिगेडियर होशियार सिंह होने की वजह से यहां यात्रियों की संख्या ज्यादा है। पहले यहां पर दिन में करीब 12 हजार यात्री दिल्ली के लिए रवाना होते थे लेकिन बाॅर्डर बंद होने के बाद यहां से हर रोज 16 हजार से ज्यादा यात्री दिल्ली के लिए मेट्रो का सहारा लेते हैं। ऐसे में मेट्रो स्टेशन पर सुबह से लेकर शाम तक यात्रियों की भीड़ लगी रहती है।

....

ब्रिगेडियर होशियार सिंह स्टेशन से प्रतिदिन हजारों मेट्रो रेल यात्री सफर करते हैं।  बॉर्डर बंद होने से रोहतक, सांपला, भिवानी, जींद और न जाने कहां-कहां से यात्री मेट्रो ट्रेन से दिल्ली आ जा रहे हैं, परंतु मेट्रो प्रशासन ने गाड़ियों की क्षमता बढ़ाने की बजाए घटा दी है। स्टेशन पर भारी भीड़ होने से कोरोना वायरस संक्रमण फैलने का डर है। इसीलिए ट्वीटर हैंडल के माध्यम से इस लाइन पर फ्रीक्वेंसी बढ़ाने की मांग की गई है।

-----सतपाल हाडा, प्रवक्ता, दिल्ली-रोहतक दैनिक रेल यात्री समिति।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप