हिसार, जेएनएन। ओवरलोड, अवैध यात्री वाहन और सरकार को राजस्व को चूना लगाने वाले वाहनों पर प्रादेशिक परिवहन विभाग ने मार्च में बड़ी कार्रवाई की है। विभाग ने इस बार 970 चालान कर 2.62 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूल किया है। 

सख्ती का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले पांच वर्षों में कभी भी मार्च में 38 लाख रुपये से अधिक के चालान नहीं हुए। ये वे वाहन हैं जो ओवरलोड करते हैं, दूसरे राज्यों से बिना टैक्स हरियाणा में दाखिल होते हैं साथ ही नियमों के पालन में भी हीलाहवाली करते हैं। आंकड़ों पर गौर करें तो पांच महीनों की सघन चेकिंग से ओवरलोडिंग के मामलों में 90 फीसद तक कमी आई है। विभाग ने साफ कर दिया है कि अगर एक बार पकड़े गए वाहन, इसी जुर्म में दोबारा पकड़े जाते हैं तो इन चालकों का लाइसेंस निलंबित करते हुए गाड़ी के मालिक का वाहन मार्ग परमिट निलंबित करने की कार्यवाही तक की जा सकती है। सिर्फ यह नहीं, कार्यालय में अवैध तत्वों को रोका जाए इसके लिए हेल्प डेस्क स्थापित की गई है। लोगों को दलालों के चक्कर में पड़ने की जरूरत ही नहीं है।  

पिछले पांच वर्षों में मार्च के चालानों की स्थिति

वर्ष (मार्च)- चालान- राजस्व

2017- 249- 32.94 लाख

2018- 17- 5.55 लाख

2019- 68- 38.51 लाख

2020- 37- 11.77 लाख

2021- 970- 2.62 करोड़

चालान के से मिला राजस्व

  • 2021 मार्च माह में चालान 2020 मार्च तक की तुलना में 22 फीसद बढ़ा
  • 2019 मार्चकी तुलना में 7 फीसद अधिक
  • 2018 मार्चकी तुलना में 47 फीसद अधिक
  • 2017 मार्च की तुलना में 8 फीसद अधिक
  • पिछले वर्ष मार्च महीने में 37 चलान हुए इस वर्ष इन चालानों की संख्या 970 हो गई है।

ओवरलोडिंग के चलान

  • मार्च में ओवर लोडिंग वाहनों के 534 चालान 1.84 करोड़ रुपये का राजस्व मिला
  • 90 फीसद तक ओवरलोडिंग पर लगाम लगी

मोटर वाहनों से संबंधित अपराध

  • मोटर वाहन से संबंधित अपराधों पर गौर करें तो मार्च में 40 लाख रुपये के 198 चालान हुए हैं।
  • इसके अतिरिक्त निकटवर्ती राज्यों से बिना नियमों का पालन करने वाले 7.5 लाख रुपये के 15 चालान किए गए।

हाईसिक्योरिटी नंबर प्लेट

145 चालानों से 72 हजार रुपये का जुर्माना वसूला गया

लोगों की सुविधा के लिए ये किए प्रबंध

  • हेल्पडेस्क के माध्यम से लोगों को सेवाओं की जानकारी और उनमें प्रयोग होने वाले दस्तावेजों की जानकारी साझा की जा रही है।
  • एलईडी स्क्रीन के माध्यम से दृष्यों के रूप में लोगों को दी जाने वाली सुविधाओं व उनके लिए आवश्यक दस्तावेज व फीसों बारे जागरूक किया गया।
  • पहली बार कोरोना संक्रमण को रोकने व भीड़ के उचित प्रबंधन के लिए लोगों के लिए टोकन सिस्टम शुरू किया गया।

चेकिंग का दिख रहा असर ः डॉ. सुनील

हिसार में प्रादेशिक परिवहन विभाग के सचिव डॉ. सुनील कुमार ने बताया कि सघन चेकिंग अभियान का ओवलोडिंग सहित अन्य मोटर वाहन अपराधों में असर दिख रहा है। मगर लोगों को खुद भी नियमों का पालन करना होगा। क्योंकि यह मुद्दा उनकी और सड़क पर चलने वाले लोगों की सुरक्षा से जुड़ा है। ओवरलोडिंग के कारण सड़कों को सबसे अधिक नुकसान होता है।

हिसार की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ेंः Hisar KMP Jam live: 24 घंटे के लिए केएमपी जाम, लोगों के लिए खाने की व्यवस्था भी कर रहे किसान

 

यह भी पढ़ेंः बहन ने किया था सुसाइड का प्रयास, पता चलते ही दूसरी बहन ने लगा लिया फंदा

 

यह भी पढ़ेंः रोहतक में झोपड़ियों में आग के बाद 20 परिवार गायब, पुलिस को भी नहीं कोई भनक

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप