हिसार, जेएनएन। नगर निगम क्षेत्र में बिना अनुमति के होर्डिंग्स लगाने पर भाजपा और कांग्रेस पार्टी को निगम प्रशासन ने नोटिस भेजा है। कांग्रेस के पूर्व यूथ प्रदेश सचिव वरुण गौड को नोटिस मिल चुका है, जबकि भाजपा नेता न मिलने की बात कह रहे हैं। निगम सूत्रों नोटिस भेजने की पुष्टि की है। हालांकि नोटिस किस-किस के नाम भेजे गए हैं, इस बारे में अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं।

ये हो सकती है कार्रवाई

सूत्रों के अनुसार नोटिस में लिखा गया है कि हरियाणा नगर निगम अधिनियम 1994 की धारा 122, हरियाणा नगर निगम विज्ञापन बाइलॉज 2018 के तहत अवैध है। हरियाणा परिवेंशन ऑफ डीफेसमेंट ऑफ प्रॉपर्टी एक्ट 1989 एवं संशोधित अधिनियम 1996 की धारा 3ए के तहत दंडनीय अपराध है। जिसके तहत दस हजार रुपये का जुर्माना व 6 माह की सजा कैद अथवा दोनों सजाएं एक साथ हो सकती हैं। नोटिस के माध्यम से आपको सूचित किया जाता है कि आप इस अवैध विज्ञापन को 24 घंटे के अंदर हटाकर नगर निगम को सूचित करें। साथ ही लगाए गए अवैध विज्ञापन के बारे में समझौता के लिए आवेदन कर राशि नगर निगम में जमा करवाएं। अन्यथा आपके विरूद्ध उपरोक्त वर्णित अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई करने के बारे में लिख दिया जाएगा।

बिना अनुमति के निगम क्षेत्र में विज्ञापन लगाना कानून अपराध

नगर निगम क्षेत्र में किसी भी प्रकार से सार्वजनिक स्थान पर होर्डिंग, फ्लैक्स, पोस्टर, दीवार पर पेङ्क्षटग, हैङ्क्षगग फ्लैक्स, सड़क या गली में विज्ञापन स्टैंड रखना, लोहे का स्थायी विज्ञापन लगाना, भवन की छत पर विज्ञापन लगाना तथा दुकान व व्यापारिक स्थल पर एक मीटर की ऊंचाई से अधिक का विज्ञापन व तृतीय पक्ष का विज्ञापन लगाना कानूनी अपराध है।

कांग्रेस व भाजपा पार्टी नेताओं के जवाब

कांग्रेस के पूर्व यूथ प्रदेश सचिव वरुण गौड ने बताया कि होर्डिंग लगाने के मामले में मुझे नगर निगम का नोटिस मिला है। इसका जवाब दिया जाएगा।

भाजपा जिला अध्यक्ष सुरेंद्र पूनिया ने कहा कि हमें होर्डिंग मामले में किसी प्रकार का कोई नोटिस नहीं मिला है। इस बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है।

---शहर में अवैध होर्डिंग्स लगाने पर निगम टीम समय-समय पर कार्रवाई करती है। मामले में निगम स्टाफ ने नोटिस भेजा होगा। इस बारे में जानकारी ली जाएगी।

अशोक गर्ग, कमिश्नर नगर निगम हिसार।

हिसार और आस-पास के जिलों की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021