हिसार, जागरण संवाददाता। हिसार के गांव भेरिया में चार महीने पहले ही शादी करने वाली एक नवविवाहिता ने अपने घर में चुन्नी के सहारे पंखे पर फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। सूचना मिलने पर नवविवाहिता के मायके पक्ष के लोग मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने नागरिक अस्पताल में मृतका का पोस्टमार्टम करवाकर शव मायके पक्ष के लोगों को सौंप दिया।

चार बेटियों का पिता है चंद्रपाल

मामले में मृतका के पिता रोहतक के गांव भैणी चंद्रपाल के महेंद्र सिंह ने आजाद नगर थाना पुलिस को शिकायत दी है। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। शिकायत में महेंद्र सिंह ने बताया कि उसकी चार बेटियां है। उसने अपनी छोटी बेटी 21 वर्षीय साक्षी की शादी इसी वर्ष मई महीने में गांव भेरिया के संदीप के साथ की थी। संदीप गुरुग्राम में होमगार्ड लगा हुआ है। उसकी बेटी को शादी के बाद से ही दहेज के लिए परेशान किया गया। इस बारे उसे उसकी बेटी ने काल कर बताया था। महेंद्र सिंह ने बताया कि उसने अपनी बेटी को समझाया था। जिससे उसकी बेटी ससुराल में रहने की बात मान जाती थी।

आत्महत्या से पहले की थी पिता से बात

26 सितंबर को रात करीब 10 उसकी बेटी साक्षी ने उसे काल कर बताया कि उसका पति संदीप व सास बिमला देवी और उसकी ननद मंजू उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। उसके ससुराल वाले उसे दहेज में कभी नकदी तो कभी कोई सामान लेकर आने के लिए कहकर तंग करते रहते थे। उसे काफी परेशान किया जा रहा था, गाली-गलौच की जा रही है। उसका मन कर रहा है कि वह अपनी जान दे दे। बेटी की इस बात पर उसे समझाया कि ऐसा न करें। इसके बाद वह अपने परिवार के अन्य सदस्याें को लेकर गांव भेरिया पहुंचा।

वहां बेटी के बारे में पता लगा कि उसने पंखे पर चुन्नी के सहारे लटककर अपनी जान दे दी है। वहां गांव की पंचायत भी पहुंची हुई थी। पुलिस ने वहां मौके पर पहुंचकर फोरेंसिक एक्सपर्ट को बुलाया था और प्राथमिक जांच की। पुलिस ने मामले में साक्षी के पिता महेंद्र की शिकायत पर उसके पति संदीप, सास बिमला देवी, ननद मंजू और ऊषा के खिलाफ धारा 304 बी और 34 के तहत केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Edited By: Naveen Dalal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट