जागरण संवाददाता, हिसार : शहर में नगर निगम ने पशु पकड़ो अभियान चलाया हुआ है। जैसे-जैसे अभियान आगे बढ़ रहा है। वैसे-वैसे अपने पशुओं को निगम टीम ने बचाने के लिए पशुपालक भी अपना प्लान बना रहे है। नगर निगम की टीम व शहरवासियों से मिली जानकारी के अनुसार पशुपालकों ने अपने पशुओं को निगम टीम से बचाने के लिए उन्हें खुले में छोड़ने की समय अवधि में ही परिवर्तन कर दिया है। अब पशुपालक अपने पशुओं को सायं छह बजे से सुबह छह बजे तक सड़क पर खुला छोड़ देते है। जब सुबह पशु पकड़ने वाली टीम का अभियान शुरु हाेना होता है तो उन पशुओं को वापिस बांध लेते है। यहीं कारण है कि पिछले कुछ दिनों से निगम की टीम को पशु कम ही मिल रहे है।

पशुपालकों और निगम की समय अवधि

नगर निगम का पशु पकड़ने का समय : सुबह आठ बजे से सायं छह बजे तक।

पशुपालकों का पशु खुला छाेड़ने का समय : सायं छह बजे से सुबह आठ बजे तक।

सायं छह बजे के बाद इन क्षेत्रों में पशुओं की है भरमार

- दिल्ली रोड पर सेक्टर 9-11 के मोड पर

- तोशाम रोड पर नहर के पास।

- पड़ाव चौक से आटाे मार्केट सड़क पर

- नई सब्जीमंडी के आसपास

- कैमरी रोड पर पीएलए कम्यूनिटी सेंटर से साउथ बाइपास तक।

- पटेल नगर सब्जीमंडी के पास।

- पुरानी सब्जीमंडी पर पुल के पास से शूरसेन चौक तक।

- सेक्टर 14 से श्मशानभूमि ऋषि नगर मार्ग।

- बस स्टैंड के पास फुटओवर ब्रिज के आसपास।

- सेक्टर 1-4 मोड के पास।

- मधुबन पार्क के सामने से जिंदल पार्क तक।

सेक्टर-14 में निगम टीम को नहीं मिले पशु, तो 12 क्वार्टर पहुंची टीम

शनिवार को नगर निगम टीम ने सेक्टर-14 में पशु पकड़ो अभियान शुरु किया था। दोपहर तक करीब चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद नगर निगम की टीम केवल चार पशु ही पकड़ पाई थी। अंत में दोपहर बाद टीम 12 क्वार्टर रोड पर पशु पकड़ने के लिए पहुंची और वहां पर आठ पशु पकड़े थे।

 

------पशु पकड़ो अभियान लगातार जारी है। अभियान के चलते पशुपालक भी अब अपने पशु घर पर ही रखने लगे है। रात को अवश्य कुछ पशुपालक पशु छोड़ते है, लेकिन अभियान इसी प्रकार जारी रहा तो निगम इनपर भी शिकंजा कस पाएगा। हमारा प्रयास है कि शहर को बेसहारा पशु से मुक्त किया जाए। शहर को बेसहारा पशु मुक्त करने के लिए निगम कमिश्नर के दिशा निर्देश पर निगम टीम बेहतर कार्य कर रहा है।

- देवेंद्र बिश्नोई, इंचार्ज, पशु पकड़ो अभियान, नगर निगम हिसार।

Edited By: Manoj Kumar