फतेहाबाद, जागरण संवाददाता। फतेहाबाद में बरसाती सीजन ने स्वास्थ्य विभाग की मुसीबत बढ़ा दी है। पिछले कुछ दिनों से लगातार डेंगू के मरीज आ रहे है। वहीं जिले में पहला मलेरिया का एक मरीज भी मिला है। फतेहाबाद क्षेत्र के गांव चिंदड़ की ढाणियों में रहने वाली महिला मलेरिया से पीड़ित मिली है। वहीं पिछले पांच दिनों में डेंगू के चार नए केस आ गए है। जिससे स्वास्थ्य विभाग ने अभियान को तेज कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग भी मान रहा है कि जिले में मलेरिया के मरीज नहीं आएंगे, क्योंकि इसका सीजन जा चुका है। आने वाले समय में डेंगू की बीमारी का प्रभाव अधिक देखने को मिल सकता है।

850 घरों थमाया नोटिस

फतेहाबाद जिले में इस साल अब तक डेंगू के 12 केस आए है। बरसाती सीजन के बाद 10 नए केस आ गए है। अब स्वास्थ्य विभाग ने नए सिरे से सर्वे शुरू कर दिया है। जिले में अब तक स्वास्थ्य विभाग की टीम 62650 घरों में सर्वे कर चुकी है। जिले में अब तक 1050 घरों में डेंगू का लार्वा भी मिल चुका है। ऐसे में 850 लोगों को नोटिस थमाया गया है।

सर्वे अभियान को किया तेज

जिले में डेंगू के मरीज बढ़ने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने नए सिरे से प्लानिंग शुरू कर दी है। लोगों को जागरूक करने के लिए पंपलेट आदि दिए जा रहे है ताकि लोग अपनी सुरक्षा खुद कर सके। डेंगू का मच्छर साफ पानी में पनपता है। ऐसे में बरसात का पानी अपने आसपास जमा होने के कारण मच्छर वहीं पर बैठता है और दिन के समय काटता है। ऐसे में डेंगू की बीमारी होने की संभावना अधिक होती है।

निजी अस्पतालों को जारी किए आदेश

डेंगू के मरीज आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की तरफ से निजी अस्पताल संचालकों को आदेश जारी कर दिए है कि अगर उनके यहां डेंगू व मलेरिया का संदिग्ध मरीज मिले तो स्वास्थ्य विभाग को सूचित करे। फतेहाबाद के नागरिक अस्पताल में डेंगू की जांच करने के लिए मशीन है। स्वास्थ्य विभाग अपनी मशीन द्वारा जांच करने के बाद ही आंकड़े को मान रही है। ऐसे में जिले के बड़े अस्पताल संचालकों को ईमेल के माध्यम से पत्र जारी हुआ है।

पिछले छह सालों में डेंगू को लेकर यह रही स्थिति

वर्ष       डेंगू मरीज      मलेरिया मरीज

2015      189          992

2016      38           368

2017      419          107

2018       56           02

2019       29           05

2020       35           04

2021       12           01 अब तक

डेंगू के ये हैं लक्षण

तेज बुधार आना।

सिर के अगले हिस्से में तेज दर्द।

आंख के पिछले भाग में दर्द।

मांसपेशियों एवं जोड़ों में दर्द।

भूख कम लगना।

 उल्टी आना।

डेंगू से बचाव के उपाय

डेंगू बुखार के लक्षण होने पर रोगी के रक्त की जांच ईएलआइएसए टेस्ट करवाना चाहिए।

रोगी को पेरासिटामोल की गोली देनी चाहिए।

रोगी को पेय पदार्थ जैस दही, लस्सी, ताजा जूस, नारियल पानी देने चाहिए।

अब जाने स्वास्थ्य विभाग ने सर्वे किया

मार्च से अब तक घरों में मिला लार्वा : 1050

अब तक घरों का हुआ सर्वे : 62650

कूलरों की गई जांच : 40121

पानी की टंकी की जांच : 45854

पानी की होदी की जांच : 8335

गमलों की की जांच : 50113

टायरो की जांच : 38113

सिविल सर्जन फतेहाबाद डा. वीरेश भूषण ने बताया कि बरसाती सीजन चल रहा है। ऐसे में अपने आसपास पानी खड़ा होने के कारण मच्छर पनप रहे है। स्वास्थ्य विभाग सर्वे करवाने के साथ लोगों को जागरूक भी कर रहा है। घबराने की जरूरत नहीं है। समय पर टेस्ट करवाये और इलाज ले। अगर अपने आसपास पानी है तो उसके अंदर दवाई डाल दे।

Edited By: Naveen Dalal