हिसार, जेएनएन। कोरोना वायरस के खिलाफ जंग और इसके कारण Lock Down के दौरान कई जगह लोग तमाम को‍शिशों के बावजूद हालात को समझने को तैयार नहीं हैं और घरों से बाहर आने से बाज नहीं आ रहे। इन सबके बीच कुछ लोगों की जागरुकता दिल को छू लेने वाली है। हिसार में एक व्‍यक्ति ने अपने भाई के निधन के बाद घर के बाहर संदेश लगा दिया कि कृपया कोई शोक व्यक्त करने न आएं। इससे लॉक डाउन तोड़कर सड़कों पर निकलने वालों को सीखना चाहिए।

प्रधानमंत्री की अपील का असर- कोरोना को देखते हुए बनाया सोशल डिस्टेंस

कोराेना वायरस COVID-19 के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों का लॉक डाउन है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इसकी घोषणा की थी। इसके बाद हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल ने भी लोगों से लॉक डाउन का पूरी तरह पालन करने की अपील की। इसके बावजूद हर रोज कुछ लोग सड़कों पर निकल रहे हैं।

घर के बाहर चिपकाया गया संदेश।

वहीं शहर के सेक्टर 9-11 निवासी मुकेश गोयल ने अनोखा उदाहरण पेश किया है। उन्‍हाेंने सोशल डिस्टेंस के लिए संदेश दिल छू लेने वाले अंदाज में दिया है। हाल ही में मुकेश गोयल के भाई संजय गोयल का फूड प्वायजनिंग के कारण निधन हो गया।

आम तौर पर किसी का निधन होने के बाद लोग घर में शोक जताने आते हैं। कोराेना के कारण पैदा हालात और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सोशल डिस्‍टेंस की अपील को ध्‍यान में रखकर मुकेश गोयल ने बड़ा फैसला किया। लोग शोक जताने न आएं और लाेगों का जमावड़ा न लगे इसके लिए मुकेश गोयल ने घर के बाहर नोटिस लगा दिया है।

नोटिस में लिखा है- ' देश में चल रही भयंकर त्रासदी और प्रधानमंत्री जी की अपील का समर्थन करते हुए हमें बड़े दुख के साथ आपसे हाथ जोड़ कर कहना पड़ रहा है कि कृपया जितना संभव हो सके घर पर रहें। हमें इस दुख की घड़ी में आपसे न मिल पाने का बहुत दुख है। हम आपकी भावनाओं की बहुत कद्र करते हुए पुन: आपसे सहयोग की प्रार्थना करते हैं। सभी शुभचिंतकों को हाथ जोड़कर धन्यवाद।

मुकेश गोयल ने बताया कि वह लोगों से चाहते हैं कि वह उनके घर न आकर फोन पर ही शोक प्रकट कर सकते हैं। अगर फिर भी किसी को लगता है कि जाना चाहिए तो वह गेट से ही अपना संदेश देकर जा सकता है।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: मनोहरलाल का ऐलान- कोरोना से जंग में जुटे डॉक्‍टरों व कर्मियों के हादसे पर मिलेंगे 20 से 50 लाख


यह भी पढ़ें: Lock down का असर: हरियाणा की पहली मरीज COVID-19 से मुक्‍त, कोई नया केस नहीं आया सामने


यह भी पढ़ें: कोरोना से जंग के बीच अच्‍छी खबर, पंजाब के पहले COVID-19 मरीज ने महामारी को दी मात

 

यह भी पढ़ें: कोरोना के बचाव के लिए संतुलित आहार लेना जरूरी, अपनाएं भोजन में 2 फीसद का नियम

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस