जागरण संवाददाता, हिसार : प्रदेश सरकार ने खुले में स्लाटरिंग से लेकर मीट बिक्री पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। बावजूद इसके शहर में धड्ल्ले से खुले में मीट बिक्री हो रहा है। मीट बिक्री का सिलसिला देर रात तक शहर के मुख्य मार्गों तक पर जारी रहता है। मीट विक्रेता धडल्ले से प्रदेश सरकार के आदेशों को दरकिनार कर मीट बिक्री कर रहे है। उधर मीट विक्रेताओं के लिए स्लाटर हाउस की सुविधा जल्द शुरु करने का दावा करने वाला नगर निगम प्रशासन भी आज तक स्लाटर हाउस तक शुरु नहीं कर पाया है यहीं कारण कि प्रदेश सरकार के आदेश केवल कागजों तक ही सीमित होकर रह गए है।

उधर नगर निगम अफसरों से मीट बिक्री से लेकर चरमराई सफाई व्यवस्था पर जवाब तलब करने के लिए सफाई की सब कमेटी के चेयरमैन अनिल जैन ने तीन अगस्त को नगर निगम सभागार में सुबह 11 बजे मीटिंग बुलाई है। जिसमें पार्षद अफसरों से जवाब तलब करेंगे

शहर में चरमराई सफाई व्यवस्था

सुंदरता, सफाई व्यवस्था, स्लाटर हाउस और मीट मार्केट की सब कमेटी की सदस्य अमिता सिंह ने कहा कि उनके वार्ड में सफाई व्यवस्था चरमराई हुई है। शहर के पास क्षेत्र अर्बन एस्टेट-टू से लेकर डीसी एमसी कलोनी, गोविंद नगर, दुर्गा कालोनी सहित आसपास के क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है। केवल शिकायतों पर ही सफाई होती है। कई क्षेत्र तो वार्ड में ऐसे है जिसमें सप्ताह में एक या दो बार ही सफाई कर्मचारी सफाई के लिए आते है। अब तो हालात ये हो गए है कि शिकायत करने के बावजूद भी निगम के एएसआई सफाई व्यवस्था दुरुस्त नहीं कर पा रह है। ऐसे में मीटिंग में अफसरों से जवाब लेंगे।

आरडब्ल्यूए भी सफाई व्यवस्था की कर चुके शिकायत

सेक्टरों में बेपटरी हुई सफाई व्यवस्था पर पीएलए की आरडब्ल्यूए भी रोष प्रकट कर चुकी है। उनका भी यहीं करना है कि केवल शिकायत के आधार पर शहर में सफाई होती है। प्रधान सतपाल ठाकुर ने कहा कि नगर निगम प्रशासन पर संज्ञान ले की शहर में सफाई व्यवस्था बेहतर हो।

---शहर की सफाई व्यवस्था पर अभी तक एक भी मीटिंग नहीं हो पाई है। यह पहली मीटिंग है। इसमें सफाई से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर और मीट बिक्री से संबंधित अफसरों से जवाब लेंगे।

- अनिल जैन, पार्षद एवं चेयरमैन सब कमेटी, नगर निगम हिसार

Edited By: Manoj Kumar