हिसार, जेएनएन। मैं थारा अर थाम मेरे आपणे बीच म्ह कोए तीसरा आण तई यो हमारा पारिवारिक हलका खिंड ज्यागा। हमारे और आपके बीच पारिवारिक रिश्ता है। परिवार के किसी सदस्य को आपस में थोड़ा ब्होत मन मुटाव हो सकता है, पण आपणो तो आपणो ई होवै। इसलिए आप नई पीढ़ी के बच्चों को समझाओ जो सोशल मीडिया के माध्यम से लोकसभा में बहक गए थे।

उनको बताओ कि यहां काम और रोजगार चौ. भजनलाल ने करवाए और विपक्ष में रहते हुए भी मैंने इन कामों को आगे बढ़ाया। उरै गामां म्ह जो धोती आले सैं वो तो पिताजी के साथ आले हैं, जो कुर्ता-पाजामा आले हैं वो मेरे साथ हैं, ये सारी बात समझै हैं, पण जो पैंट शर्ट आले नए छोरे सैं उनसै थोड़ा डर लागै सै इन्हानै भव्य से मिलाओ और अपणे-पराए की पहचान समझाओ। कुछ इसी ठेठ बागड़ी अंदाज में कुलदीप बिश्नोई ने आज जनसंपर्क अभियान के तहत हलके के गांव ढाणी मोहबतपुर, मोढाखेड़ा, फ्रांसी, जगान, असारावा, महलसरा, मोठसरा तथा भाणा में अनेक कार्यक्रमों के दौरान लोगों से बातचीत कर रहे थे।

कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि सरकार आम जनमानस के पीछे हाथ धोकर पड़ी है। टै्रफिक नियमों का पालन करना हर व्यक्ति की जिम्मेवारी है, लेकिन नियमों के नाम पर आजकल जो लूट मचाई जा रही है, वह लोगों के साथ अन्याय है। सत्ता के नशे में चूर  भाजपा के मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक विभिन्न वर्गों का अपमान कर रहे हैं। मुख्यमंत्री जैसे गरिमामयी और जिम्मेदार पद पर बैठकर किसी व्यक्ति को जान से मारने की धमकी देने जैसे शब्दों का प्रयोग करना दर्शाता है कि कुर्सी के नशे में ये लोग घमंड में चूर हैं, लेकिन घमंड तो राजा रावण का भी नहीं रहा था।

आने वाले विधानसभा चुनाव में प्रदेश की जनता ऐसे नेताओं को सबक सिखाएगी। उन्होंने कहा कि बिजली, पानी जैसी मूलभूत जरूरतें भी यह सरकार पूरी नहीं करवा पा रही है और दावे विकास के किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आदमपुर हलके की जनता गत लोकसभा चुनाव में जो कसर रह गई थी, उसे पूरा करते हुए एकजुटता का परिचय देगी। इस दौरान बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

Posted By: Manoj Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप