हिसार, जेएनएन। राजस्थान के राजगढ़ थानाधिकारी विष्णुदत बिश्नोई के तथाकथित आत्म हत्या के मामले को लेकर आज अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा के संरक्षक व विधायक कुलदीप बिश्नोई ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से राजस्थान के बिश्नोई समाज के मंत्री व विधायकों से बैठक की। बैठक में महासभा के अध्यक्ष हीराराम भंवाल भी मौजूद थे। बैठक में कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि विष्णुदत बिश्नोई के जाने से समाज को जो क्षति हुई उसकी पूर्ति निकट भविष्य में असंभव है।

इस मामले को लेकर राजनीतिक, सामाजिक एवं गणमान्य लोगों द्वारा सीबीआई जांच की मांग की जा रही है, जिसका वे समर्थन करते हैं। वीसी में सांचोर से विधायक एवं राजस्थान सरकार में वन-पर्यावरण मंत्री सुखराम बिश्नोई,नोखा के विधायक बिहारी लाल, फैलोदी के विधायक पब्बाराम बिश्नोई, बिश्नोई महासभा अध्यक्ष हीराराम भंवाल ने सीबीआइ जांच और पीडि़त परिवार को आर्थिक मदद देने की मांग उठाई।

लूणी के विधायक महेन्द्र बिश्नोई ने कहा कि मामले की उच्च स्तरीय जांच को लेकर उनकी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात हुई है और उन्होंने जांच का पूरा आश्वासन दिया है। उनकी आत्महत्या के मामले का सच समाज के सामने अवश्य आएगा। 

मेरे लिए समाज पहले, राजनीति बाद में : बिश्नोई

कुलदीप बिश्नोई ने मंत्री, अध्यक्ष हीराराम एवं सभी विधायकों का आभार जताते हुए कहा कि बहुत ही कम समय के नोटिस पर सभी वीसी के लिए इकट्ठा हुए, इसक लिए वे सभी के आभारी हैं। समाज से जुड़े इस बहुत ही गंभीर मामले का सच सामने आने तक वे चैन से नहीं बैठेंगे। समाज उनके लिए सर्वोपरि है, राजनीति बाद में है। परिवार को न्याय दिलाने के लिए सभी को एकजुट होकर प्रयास करते रहना है।

बता दें कि विष्‍णुदत्‍त बिश्‍नोई एक साफ और ईमानदार छवि के इंसान थे। उनकी मौत पर राजस्‍थान सीएम अशोक गहलोत ने भी ट्वीट कर खेद जताया है। वहीं मौत से पहले उनकी एक एडवोकेट से हुई वॉट्सएप चैट में उन्‍होंने उनके साथ राजनीति होने जैसी बातें लिखी हैं। साथ ही यह भी लिखा है उन्‍हें दलदल में धकेला जा रहा है। ऐसे में मामला बेहद संगीन माना जा रहा है।

 

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस