जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ : सड़कों पर ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन तो आम बात है, लेकिन कुछ वाहन चालक को खुद को वीआइपी या फिर स्पेशल दिखाने के चक्कर में वाहनों को ही अजीब लुक दे रहे हैं, लेकिन इससे ट्रैफिक पुलिस का सिरदर्द बढ़ रहा है। जब पुलिस सड़कों पर चेकिंग करती है तो ऐसे वाहन चालकों से बहस भी खूब होती है। कई बार पुलिस से वाहन उलझ ही जाते हैं। अब कुछ समय से ट्रैफिक पुलिस ने सड़कों पर चेकिंग के लिए टीमें बढ़ाई हैं तो इसमें कई वाहनों पर नियमाें के उल्लंघन में अजीबो-गरीब स्थिति मिल रही है।

बुलेट बाइकों का साइलेंसर बदलवाकर पटाखे छाेड़ना या फिर वाहनाें की नंबर प्लेट पर रजिस्ट्रेशन नंबर की बजाय कुछ भी जातिगत शब्द लिख लेना जैसे शगल तो खूब देखने को मिले रहे हैं और पुलिस इनके चालान भी खूब काट रही है, लेकिन इससे भी आगे बढ़कर कुछ गाड़ी चालक तो किसी मंत्री या विधायक का नजदीकी साबित करने की कोशिश करते हैं। सड़काें पर इन दिनों ऐसी भी गाड़ियां दौड़ रही हैं, जिनके पीछे के शीशे पर खास तरह की फिल्म चढ़ी रहती है।

इसमें एक तरफ प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज का फोटो लगा है और दूसरी तरफ लिखा होता है बाबा गब्बर हरियाणा। कायदे से तो शीशों पर किसी भी तरह की फिल्म चढ़ाना वर्जित है। काले शीशों पर भी पुलिस चालान काटती है, लेकिन प्रदेश के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री के फोटो और नाम की फिल्म शीशे पर लगाकर तो सड़क पर यही साबित करने की कोशिश होती है कि फ्लां गाड़ी तो मंत्री के किसी जान-पहचाने वाले या फिर खास आदमी की है। ऐसा भी हो सकता है कि इस तरह की फिल्म चढ़ाकर सड़काें पर किसी तरह की चेकिंग से बचने की कोशिश हो।

पुलिस अधिकारियों का मानना है कि गाड़ी के शीशे पर इस तरह की फिल्म चढ़ाने के लिए कोई नियम नहीं है। ऐसा करने वाले रोब दिखाने के लिए ऐसा करते हैं, लेकिन उनके लिए कोई कानूनी ढील नहीं है। बहादुरगढ़ के ट्रैफिक एसएचओ दिनेश कुमार का कहना है कि वाहनों में नियमों के उल्लंघन पर चालान कार्रवाई को लेकर सख्ती की जा रही है। किसी तरह का उल्लंघन बर्दाश्त नहीं है।

Edited By: Manoj Kumar