भिवानी, जेएनएन। हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डा. जगबीर सिंह ने कहा कि हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा के सभी अभ्यर्थियों से अपील की है कि वे परीक्षा केंद्र पर सभी प्रकार की अनिवार्य जांच के लिए 2 घंटे 10 मिनट पहले पहुंचे। वहीं परीक्षा शुरू होने से लगभग 60 मिनट पहले परीक्षार्थियों का प्रवेश बंद कर दिया जाएगा।

इसके बाद किसी को परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। बता दें कि एचटेट का आयोजन 16 और 17 नवंबर हो होगा। 16 नवंबर को दोपहर तीन से शाम 5.30 बजे लेवल-3 परीक्षा का आयोजन होगा। वहीं 17 नवंबर को सुबह 10 से दोपहर 12.30 बजे तक लेवल-2 और दोपहर तीन बजे से शाम 5.30 बजे तक लेवल -1 परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।

बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि अभ्यर्थी इस बात का विशेष ध्यान रखें कि प्रवेश पत्र का रंगीन प्रिंट निकलवाकर आवेदन के समय प्रयोग में लाई गई रंगीन फोटो चिपकाकर राजपत्रित अधिकारी से सत्यापित करवा कर केन्द्र पर लाया जाना आवश्यक है। बिना रंगीन प्रवेश पत्र (सत्यापित) व प्रवेश पत्र के साथ छेड़छाड़ होने की अवस्था में अभ्यर्थी का परीक्षा केंद्र पर प्रवेश निषेध होगा।

मंगलसूत्र के साथ नोज पिन पहनने की भी स्‍वीकृति‍

डा. सिंह ने बताया कि अभ्यर्थी केवल ब्लैक बॉल पेन लेकर ही परीक्षा में आएं। अभ्यर्थी को परीक्षा केंद्र के अंदर किसी भी प्रकार के आभूषण, अन्य धातु आइटम, कैमरा, इलेक्ट्रानिक्स आइटम, घड़ी, केलकुलेटर, मोबाइल फोन, पेजर, ब्लूटूथ, ईयरफोन, पर्स, लॉग टेबल, हेल्थ बैंड, इलेक्ट्रानिक्स गैजेट्स एवं ज्योमिट्री, पैंसिल बॉक्स, प्लास्टिक पाउच इत्यादि ले जाने पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया गया है। अभ्यर्थी यह भी नोट करें कि परीक्षा केंद्र पर इस प्रकार की वस्तु, सामान के रखने की कोई व्यवस्था नहीं होगी। वहीं महिला अभ्यर्थियों को अंगूठी, चेन, बालियां इत्यादि ले जाने की स्वीकृति नहीं होगी। महिला अभ्यर्थियों को मंगलसूत्र व नोज पिन पहनने, बिंदी व सिंदूर लगाने और सिख अभ्यर्थियों को धार्मिक चिन्ह ले जाने की अनुमति होगी।

Posted By: Manoj Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप