जागरण संवाददाता, हिसार : शहर की सड़कों पर बेसहारा पशुओं की संख्या बढ़ने का सिलसिला जारी है। मुख्य मार्ग से लेकर कालाेनियों की गलियों में बेसहारा पशु घूमते देखे जा सकते हैं। जो जनता के लिए परेशानी का सबब बने हुए है। शहर की जनता को इन बेसहारा पशुओं से निजात दिलाने के लिए नगर निगम का पशु पकड़ो अभियान पिछले दो दिन से बंद है। कारण है कि पशु गोअभयारण्य तक पहुंचने वाली गाड़ी ही क्षतिग्रस्त हो गई है। पशुओं के कारण गाड़ी के अंदर की चदर में छेद हो गए है। जिसके कारण उसे अब बदलवाने की जररुत पड़ गई। इसलिए निगम ने वाहन दुरुस्त होने तक बेसहारा पशु पकड़ने का अभियान बीच में रोक दिया है।

मंगलवार से बंद है अभियान

शहर को बेसहारा पशुओं से मुक्त करने के लिए नगर निगम ने पशु पकड़ो अभियान चलाया हुआ है। यह अभियान मंगलवार से बंद किया हुआ है। दो दिन से अभी तक एक भी निगम टीम ने पशु नहीं पकड़ा है। टीम इन दिनों रेस्ट या तहबाजारी में अपना सहयोग कर रही है। ऐसे में अब शहर की सड़कों पर घूम रहे बेसहारा पशु हादसों को न्यौता दे रहे है।

इन क्षेत्रों में सड़कों पर है बेसहारा पशु

दिल्ली रोड पर लक्ष्मीबाई चौक से जिंदल पुल तक जगह जगह बेसहारा पशु देखे जा सकते है। सर्वाधिक पशु सेक्टर 9-11 के मोड के पास और जिंदल चौक के पास जिंदल चौक के पास सड़क पर काफी पशु रहते है। इसके अलावा विधायक आवास क्षेत्र शहर का ऐसा मार्ग है जहां देर सायं होते ही सड़क पर बेसहारा पशुओं का जमावड़ा रहता है। इस मार्ग पर सायं को सर्वाधिक पशु एचएयू के गेट के सामने चौक के आसपास बैठे रहते है। यहीं हालात सेक्टर 14 क्षेत्र में है।

-------वाहन की चादर में छेद हो गए। चादर बदलवा रहे है। इसलिए मंगलवार से पशु पकड़ो अभियान बंद है। चादर लगते ही शहर में पशु पकड़ने का अभियान चलाया जाएगा।

- देवेंद्र बिश्नोई, इंचार्ज, पशु पकड़ो अभियान, हिसार।

Edited By: Manoj Kumar