हिसार, जेएनएन। निगम प्रशासन का नया फर्जीवाड़ा सामने आया है। अफसरों ने एक किसान के मकान पर एक महिला को अनुदान देकर वहां नया मकान बनवा दिया। मामले का पता तब चला, जब इस प्लाट का असली मालिक सामने आया। अब निगम प्रशासन ने महिला पर फर्जी दस्तावेज देकर सरकारी योजना के तहत अनुदान लेने के मामले में कार्रवाई के लिए पुलिस को पत्र भेजा है।

सरकार की महत्वाकांक्षी योजना इंटी ग्रेटिड हाउङ्क्षसग एंड स्लम डिवलपमेंट प्रोग्राम (आइएचएसडीपी) यानि मलिन बस्ती विकास योजना के तहत 195 परिवारों को पक्का मकान बनाने के लिए अनुदान दिया गया है। इसी कड़ी में चंद्रलोक कालोनी आजाद नगर में एक सोसाइटी के प्लाट को अपना बताकर एक महिला ने निगम से आइएचएसडीपी योजना के तहत पुराने मकान के स्थान पर नया मकान बनाने के नाम पर करीब 90 हजार रुपये का अनुदान ले लिया।

मालिक के अनुसार ऐसे सामने आया फर्जीवाड़ा

गांव पनीहार चक निवासी मांगेराम ने बताया कि वह खेतीबाड़ी करता है। उसने साल 2013 में चंद्रलोक कालोनी गंगवा रोड हिसार में मकान खरीदा। उसमें परिवार किराये पर रहता था। दो-तीन माह बाद जब उनसे मकान खाली करने को कहा तो वह इसे अपना प्लाट बताने लगे और मालिक बन बैठे। उन्होंने कोर्ट का सहारा लिया और वहां निगम के हाउस टैक्स का रसीद व आइएचएसडीपी योजना की रिपोर्ट दी तो पता चला कि इन्होंने कैसे फर्जीवाड़ा किया है। इस बारे में जब उन्होंने निगम से जवाब मांगा तो अब निगम अफसरों ने महिला के खिलाफ फर्जी अलाटमेंट लेटर देने सहित फर्जीवाड़ा करने की पुलिस को शिकायत देने की बात कही।

गृहकर शाखा की कार्यप्रणाली से आमजन परेशान

निगम की गृहकर शाखा की कार्यप्रणाली एक बार फिर सवालों के घेरे में आ गई है। जहां आमजनता अपने गृहकर रिकार्ड में नाम दर्ज करवाने के लिए निगम के अफसरों ने लेकर कर्मचारियों तक चक्कर लगा रहस है। वहीं एक महिला ने किसी ओर के मकान का गृहकर रिकार्ड में अपना नाम तक दर्ज करवा लिया। मांगेराम ने कहा कि बिना निगम की मिलीभगत से यह फर्जीवाड़ा संभव नहीं है। इसमें निगम के लोग भी मिले हुए हैं। उन पर भी कार्रवाई होनी चाहिए।

-------चंद्रलोक कालोनी में मकान के लिए एक महिला द्वारा गलत दस्तावेज देकर अनुदान लेने का मामला सामने आया है। इस मामले में पुलिस को महिला के खिलाफ कार्रवाई के लिए लिखा गया है।

- जेके अभीर, कमिश्नर, नगर निगम हिसार।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस