हिसार, जेएनएन। हिसार में वीरवार को रिकॉर्ड भी टूट गया है और आज पहली बार 785 कोरोना केस एक दिन में मिले हैं। वहीं 10 संक्रमितों की मौत भी हुई है। हालांकि एक दिन में सर्वाधिक मौतें 14 पहले हो चुकी हैं। कोरोना का प्रसार दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है। वीरवार को हिसार में एक साथ 680 कोरोना केस मिले थे। बीते छह दिनों से हिसार जिले में 500 के उपर कोरोना केस मिल रहे हैं। सिविल अस्पताल में ऑक्सीजन की खपत भी दस गुना तक बढ़ चुकी है। अब निजी अस्‍पतालों में भी ऑक्‍सीजन की कमी खलने लगी है। शुक्रवार को मृत हुए संक्रमितों में से दो युवा भी हैं। इनकी मौत का कारण ऑक्‍सीजन की कमी होना माना जा रहा है।

बुधवार को हिसार में अब तक एक दिन में सर्वाधिक 594 केस मिले थे। वीरवार को इन संक्रमित केसों का भी रिकॉर्ड टूट गया था तो शुक्रवार को वीरवार का भी रिकॉर्ड टूट गया है। कोरोना के नए मामले मिलने से कुल मामले 23684 पर पहुंच गए है। वहीं कोरोना से 18862 लोग स्वस्थ हो चुके है। वहीं अब एक्टिव मामले बढ़कर 4446 हो गए है। जबकि रिकवरी रेट 79.64 पर पहुंच गया है। 376 संक्रमितों की मौत हो चुकी है।

बीते छह दिनों में 500 से पार आ रहे कोरोना के मामले

दिनांक - केस - एक्टिव केस - रिकवरी रेट - मौत

18 अप्रैल - 521- 2422- 86.50- 352

19 अप्रैल - 527- 2779- 85.13- 355

20 अप्रैल - 549- 3154- 83.75- 360

21 अप्रैल - 594- 3609- 82.2- 364

22 अप्रैल - 680- 4001- 80.93- 366

23 अप्रैल - 785 - 446- 79.64 - 376

सामान्य बीमारियों के लिए कोरोना रिपोर्ट जरूरी नहीं

अभी लोगों में असमंजस की स्थिति बनी हुई है कि अस्पताल गए तो चिकित्सक बिना कोरोना रिपोर्ट के देखेंगे या नहीं। इसको लेकर अभी ऐसी कोई बंदिश नहीं है कि आपको कोरोना रिपोर्ट लेकर जाने की आवश्यकता है। अस्पताल में जो सर्जरी या अन्य गंभीर मामलों को दिखाने जा रहे मरीजों से कोरोना रिपोर्ट ली जा रही है। अगर किसी मरीज को कोविड के लक्षण हैं तो वह मौके पर ही कोविड टेस्ट करा सकता है। कुछ बड़े प्राइवेट अस्पताल अपने यहां एंटीजन टेस्ट भी कर रहे हैं। जिंदल अस्पताल में कोविड के लक्षण न होने पर मरीजों को बिना कोरोना रिपोर्ट के देख रहे हैं। इसके साथ ही सुखदा अस्पताल में बिना टेस्ट देखा जा रहा है। अगर मरीज कोविड के लक्षण बताता है तो एंटीजन टेस्ट ले लिया जाता है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप