हिसार, जेएनएन। हिसार की एक शादी में शामिल हुए 150 लोगों के कोरोना संक्रमित होने के मामले में आखिरकार प्रशासन की नींद टूट ही गई है। डोगरान मोहल्ला में हुए शादी समारोह में निर्धारित सीमा से अधिक लोग एकत्रित करने पर सिविल लाइन पुलिस ने आयोजनकर्ता राजेश सोनी को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि कुछ समय बाद उसे जमानत मिल गई। पुलिस ने क्वारंटाइन का समय पूरा होने पर सोनी को गिरफ्तार किया था। पुलिस को दिए बयान में राजेश सोनी ने बताया कि 26 जून को किसी परिचित की मौत के कारण उसके बेटे की शादी में कम ही लोग एकत्रित हुए थे।

गौरतलब है कि राजेश के भाई सच ज्वेलर्स संचालक के संपर्क में आए करीब 150 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे। शादी समारोह में 150 से अधिक लोग एकत्रित होने के मामले को स्वास्थ्य विभाग से डा. रमेश पूनिया ने उजागर किया था। इसकी शिकायत डिप्टी सीएमओ से की गई थी। प्रशासन के पास मामले की जानकारी पहुंचने पर उपायुक्त ने जांच के आदेश दिए थे।

कारण बताओ नोटिस भी किया गया था जारी

प्रशासन की ओर से उपरोक्त मामले में लीलावती पैलेस में निर्धारित सीमा से अधिक लोग शादी समारोह में एकत्रित करने पर संचालक को नोटिस जारी किया गया था।

-----डोगरान मोहल्ला में 29 जून को हुए शादी समारोह में अधिक लोग एकत्रित होने के मामले में राजेश सोनी को गिरफ्तार किया गया था।

चंद्रभान, इंचार्ज, एचएयू चौकी।

जेल वार्डन से डाक्टर ने वीडियो बनाने पर छीना फोन, लिखवाया माफीनामा

हिसार : अग्रोहा धाम के कोविड केयर सेंटर में कोरोना पॉजिटिव जेल वार्डन से एक डाक्टर ने मोबाइल छीन लिया और उससे माफीनामा भी लिखवा लिया। जेल वार्डन ने मंगलवार सुबह अन्य मरीजों के साथ पानी में कीड़े मिलने पर शिकायत की थी। इस दौरान डाक्टर ने बहस की तो सेंट्रल जेल के वार्डन ने वीडियो बनानी शुरू कर दी। इस पर डाक्टर ने फोन छीन कर सारी वीडियो डिलीट कर मोबाइल वापस कर दिया। हालांकि यह वीडियो बाद में सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

वीडियो में कोरोना पॉजिटिव मरीज पीने के पानी में कीड़े की मिलने बात बता रहा है। वहीं डाक्टर मरीज को धमकी दे रहा है।

नोएडा से लौटा 38 वर्षीय युवक हिसार आने के बाद पॉजिटिव मिला। इसने 31 जुलाई को सैंपल करवाया था। हिसार आने पर 2 अगस्त को रिपोर्ट आई तो पॉजिटिव मिला। युवक ने स्वास्थ्य विभाग से संपर्क किया। उन्होंने फोन पर लक्षणों के बारे में पूछकर एंबुलेंस भेजने के लिए कहा, लेकिन पूरा दिन एंबुलेंस नहीं आई। युवक ने बीजेपी के समाज कल्याण सैल के युवा नेता पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरङ्क्षवद शर्मा को शिकायत की। अरङ्क्षवद शर्मा ने डीसी कार्यालय व सीएमओ से बात की। जिसके बाद एंबुलेंस आई तो जाट धर्मशाला कोविड केयर में ले जाया गया। वहां से अग्रोहा धाम के कोविड केयर में रेफर किया गया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस