सिरसा, जागरण संवाददाता। कोरोना काल के चलते दो सालों के बाद बुधवार रात से भव्य रामलीला मंचन शुरू हुआ। सिरसा में जनता भवन रोड पर रामा क्लब द्वारा तथा सुरतगढ़िया चौक पर विष्णु क्लब के द्वारा रामलीला मंचन शुरू हुआ। पहले दिन रामलीला में रावण का हिमालय पर्वत पर पुष्पक विमान का रूकना, रावण-नंदीगण संवाद, रावण शिव संवाद तथा भगवान शिव के द्वारा रावण को चंद्रहास तलवार प्रदान करना दृश्य का मंचन हुआ। उसके बाद रावण वेदवती संवाद तथा वेदवती के द्वारा रावण को श्राप देना कि अगले जन्म में वह सीता रूप में अवतरित होकर उसका नाश करेगी तथा श्रवण प्रसंग दृश्य मंचित किए गए। 

'भगवान राम हम सबके आदर्श'

रामा क्लब के द्वारा 72वें रामलीला एवं दशहरा महोत्सव का आयोजन किया गया। इसका शुभारंभ जनता वेल्फेयर ट्रस्ट के प्रधान बाबू लाल फुटेला ने बतौर मुख्यातिथि किया। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि समाजसेवी संजय अरोड़ा रहे। अध्यक्षता रामा क्लब के प्रधान अश्वनी बठला ने की। उपस्थित अतिथियों ने रिबन काटकर रामलीला की शुरूआत की वहीं विष्णु क्लब में भाजपा नेता गोबिंद कांडा बतौर मुख्यातिथि पहुंचे। कार्यक्रम के आरंभ में भगवान विष्णु जी की आरती हुई। इसके पश्चात दृश्य मंचित हुए। विष्णु क्लब में उपस्थित दर्शकों को संबोधित करते हुए गोबिंद कांडा ने कहा कि भगवान राम हम सबके आदर्श है।

भव्य रामलीला में अनेक दृश्यों का मंचन

भगवान राम से लेनी चाहिए प्ररेणा

उनके जीवन से हमें प्रेरणा लेनी चाहिए और एक आदर्श राजा, आदर्श भाई, आदर्श मित्र इत्यादि उनके चारित्रिक गुणों को अपनाना चाहिए। उधर रामा क्लब के मंच पर मुख्यातिथि बाबू लाल फुटेला ने कहा कि महामारी के कारण दो वर्ष तक रामलीला का आयोजन विस्तृत तरीके से नहीं हो सका परंतु इस बार प्रभु राम की कृपा से फिर से रामलीला शुरू हुई है। रामा क्लब पिछले 71 सालों से रामलीला एवं दशहरा महोत्सव का सात्विक भाव से आयोजन कर रहा है। रामलीला में पहले दिन विष्णु के रोल में ऋषभ गाबा, रावण के रोल में मनोज सोनी, वेदवती के रोल में मनप्रीत कौर, श्रवण के रोल में रवि भारती व नंदीगण के रूप में श्याम भारती ने अभिनय किया।

Edited By: Naveen Dalal