रानियां (सिरसा), जेएनएन। अगर आप किसी अपने की शादी करने की तैयारी में है और शुभ मुर्हुत का इंतजार कर रहे हैं। तो आपका इंतजार खत्‍म हो गया है। अब कल यानि 15 जनवरी से शादी की शहनाइयां गूंजनी आरंभ जाएंगी जो 31 जनवरी तक जारी रहेंगी। 15 जनवरी से शादियों का साहा यानि शुभ मुर्हुत आरंभ हो जाएगा। रानियां के श्री दुर्गा मंदिर के पंडित जयभगवान शर्मा ने बताया कि 10 जनवरी से गुरु उदय हो रहे हैं। साहा आरंभ होने का समय नजदीक आने से बाजारों में भी रौनकें पहले की अपेक्षा बढ़ गई हैं तथा शादियों का सामान रखने वाले दुकानदारों को भी अपने अपने व्यवसाय में बढ़ोतरी की उम्मीद जगी है।

बीते वर्ष 16 दिसंबर को खरमास आरंभ हो गया था जो 14 जनवरी को सूर्य के उत्तरायण होने के बाद समाप्त हो गया। इसीलिए इस वर्ष अब 15 जनवरी से मांगलिक कार्यक्रमों का आरंभ होगा। संक्रांति के बाद 15 जनवरी को विवाह इत्यादि आरंभ हो रहे हैं जो 31 जनवरी तक विवाह के विभिन्न मुहूर्त रहेंगे। मकर संक्रांति से सूर्य मकर राशि में प्रवेश कर जाते हैं। जनवरी में अगर आप तैयारी पूरी नहीं कर पाते हैं तो निराश न हों अगले माह फरवरी में 14 दिन विवाह के मुहूर्त के हैं तथा मार्च में 10 मार्च से 12 मार्च तक विवाह होंगे। ऐसे में वर वधू के नाम से आप शुभ मुर्हुत निकलवा सकते हैं।

देवशयनी एकादशी एक जुलाई को होगी तथा देव उठनी एकादशी 25 नवंबर को होगी। यानि इस बार देव चार माह के बजाय लगभग पांच माह तक आराम करेंगे वहीं इस बार चातुर्मास की अवधि भी इतने ही दिन रहेगी।

पंडित जयभगवान ने बताया कि  सूर्य 31 मई से अस्त होकर 9 जून को उदय होगा। उन्होंने बताया कि इस अवधि के दौरान कोई शुभ विवाह आदि कार्य नहीं होता है। वहीं मलमास के विवाह व अन्य शुभ मांगलिक कार्यक्रमों की शुरुआत होता है।

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस