हिसार, जेएनएन। करीब 2958 करोड़ रुपये का घोटाला करने वाली और मल्टी लेवल मार्केटिंग के जरिए लोगों को करोड़पति बनाने का सपना दिखाने वाली फ्यूचर मेकर कंपनी की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, कई राजों से पर्दा उठता जा रहा है। आपको जानकर हैरानी होगी कि फ्यूचर मेकर के पास एक दो या दर्जनभर नहीं बल्कि 118 से अधिक प्रॉपर्टी मौजूद हैं।

यह प्रॉपर्टी तो एसआइटी द्वारा अभी तक हुई जांच में खोज ली गई हैं, ऐसी प्रॉपर्टी अभी और अधिकारियों को मिलने की उम्मीद है। खास बात है कि हिसार जिला प्रशासन ने इन सभी प्रॉपर्टियों को अटैच करने के आदेश दिए हैं। प्रत्येक प्रॉपर्टी को अटैच करने की एक बड़ी प्रक्रिया को अपनाया जाता है। फ्यूचर मेकर की प्रॉपर्टी मिलने का क्रम अभी थमा नहीं है, जैसे-जैसे प्रॉपर्टी मिल रही हैं, प्रशासन अटैच करता जा रहा है।

प्रमोटर्स भी खोल रहे राज

अक्सर मल्टी लेवल मार्केटिंग का काम करने वाली कंपनियों में एमडी या सीएमडी की गिरफ्तारी हो जाती है, मगर लोगों को रुपये निवेश कराने के लिए प्रोत्साहित करने वाले प्रमोटर्स अक्सर बच जाते हैं। मगर फ्यूचर मेकर कंपनी के मामले में एक-एक कर प्रमोटर्स को भी पुलिस शिकंजे में ले रही है। इस मामले से जुड़े हर पहलू को जांच में शामिल गया है। अभी तक जो सफलताएं मिली हैं, उसमें प्रमोटर्स द्वारा दी गई जानकारियों में ही राज खुले हैं।

 

----पहले फ्यूचर मेकर के दर्जनभर प्रॉपर्टी के मामले आए थे, मगर अब इनकी संख्या काफी बढ़ गई है। क्योंकि पुलिस की जांच इस दिशा में लगातार गहरी होती जा रही है। इसी लिए प्रशासन इनकी ऐसी प्रॉपर्टी को जांच रिपोर्ट में सामने आती जा रही हैं, अटैच करने की कार्रवाई कर रहा है,ताकि भविष्य में लोगों के साथ कोई कंपनी इस प्रकार का खिलवाड़ न करे।

--अशोक कुमार मीणा, जिला मजिस्ट्रेट, हिसार

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस