जागरण संवाददाता, हिसार : योग भारतवर्ष की जीवन पद्धति का तब से आधार रहा है जब भारत विश्वगुरु था। यह भारतीय संस्कृति का प्रतीक है जो लोगों को जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को अंतरराष्ट्रीय मान्यता दिलवाकर विश्व भर में भारत का गौरव बढ़ाया है। यह बात विधायक डा. कमल गुप्ता ने महाबीर स्टेडियम में चतुर्थ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के जिला स्तरीय कार्यक्रम में उपस्थितगण को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने किसान कल्याण आयोग के चेयरमैन डा. रमेश यादव, उपायुक्त अशोक कुमार मीणा, पुलिस अधीक्षक मनीषा चौधरी, अतिरिक्त उपायुक्त अमरजीत ¨सह मान व भाजपा के जिला महामंत्री सुजीत कुमार के साथ-साथ सैकड़ों विद्यार्थियों और गणमान्य शहरवासियों के साथ बैठकर योगाभ्यास व प्राणायाम किए।

उन्होंने योग विधाओं का प्रदर्शन करने वाली आर्यनगर की दो टीमों, शैशवकुंज, गांव देवा और सेंट कबीर स्कूल की टीम को 11-11 हजार रुपये पुरस्कार देने की भी घोषणा की। इस अवसर पर उन्होंने ढाणा कलां निवासी विकास द्वारा लिखित योग-द योग साइंस नामक पुस्तक का विमोचन भी किया। बच्चे से बुजुर्गो तक ने की भागीदारी : विधायक डा. कमल गुप्ता, उपायुक्त अशोक कुमार मीणा व पुलिस अधीक्षक मनीषा चौधरी सहित सभी गणमान्य व्यक्तियों ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। भारत स्वाभिमान के जिला प्रभारी मुकेश कुमार, पतंजलि योग समिति के जिला प्रभारी वीरेंद्र बडाला, आयुष विभाग की योग प्रशिक्षिका पूजा व डा. सत्या सावंत ने उपस्थितगण को योगासन व प्राणायाम करवाए। कार्यक्रम में 3 वर्ष के बच्चों से लेकर 90 वर्ष तक के बुजुर्गो ने भी उत्साह के साथ भागीदारी की। योग से बढ़ा भारत का गौरव मुख्यातिथि डा. कमल गुप्ता ने उपस्थितगण को संबोधित करते हुए कहा कि भारत अनेकता में एकता का अनुपम उदाहरण है और योग के विविध क्रियाकलापों की भांति यहां की संस्कृतियों का मेल इसकी एकता का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग की महत्ता को समझते हुए इसे अंतरराष्ट्रीय मान्यता दिलाते हुए भारत का गौरव बढ़ाया। आज विश्व के 170 से अधिक देशों में एक साथ योग कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। उपायुक्त ने की योग की व्यापक व्याख्या :

उपायुक्त अशोक कुमार मीणा ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए जीवन में योग के महत्व पर विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि योग एक दर्शन है जो महर्षि पतंजलि ने विश्व को दिया। भारत को वैश्विक ख्याति दिलाने में भी योग की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि योग का केवल शारीरिक ही नहीं, आध्यात्मिक महत्व भी है। उन्होंने अष्टमार्ग के दर्शन, तीनों योग तथा इनसे होने वाले लाभ की विस्तार से व्याख्या की। उन्होंने आमजन से आह्वान किया कि वे योग को अपने जीवन में शामिल करें और बीमारियों के साथ-साथ मानसिक ¨चता से भी मुक्त होकर स्वस्थ जीवन जीएं।

---

ये योगासन व प्राणायाम करवाए लगभग डेढ़ घंटे चले कार्यक्रम के दौरान सूक्ष्म व्यायाम के तहत प्रार्थना, ग्रीवा चालन, स्कंध ¨खचाव, स्कंध चालन, कटि चालन व घुटना संचालन, खड़े होकर करने वाले ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन, अर्ध चक्रासन व त्रिकोणासन, बैठकर करने वाले दंडासन, भद्रासन, वज्रासन, ऊष्ट्रासन, शशांकासन, उत्तानमंडूकासन व वक्रासन, पेट के बल लेटकर मकरासन, भुजंगासन व शलभासन, पीठ के बल लेटकर किए जाने वाले सेतुबंधासन, उत्तानपाद आसन, अर्धहलासन, पवन मुक्तासन व शवासन, कपालभाति क्रिया, अनुलोम-विलोम, शीतली, भ्रामरी व ध्यान आदि प्राणायाम करवाए गए। अंत में सोच को सकारात्मक व संतुलन बनाए रखने व समाच में शांति व सौहार्द में सहयोग का संकल्प दिलाया गया। मौसम ने दिया भरपूर साथ योग दिवस कार्यक्रम को सफल बनाने में मौसम ने भी भरपूर साथ दिया। अलसुबह अचानक उमड़े बादलों ने बारिश की आशंका पैदा कर दी थी, लेकिन बादल बने रहे और बादलों के बीच से सूर्य लुकाछिपी जारी रही। इसके साथ ही हल्की-हल्की हवा भी बहती रही जिस कारण योग साधकों को गर्मी की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। उल्लेखनीय है कि इससे पहले आयोजित तीन में से दो वर्षो के दौरान योग कार्यक्रमों को भारी बारिश के कारण अव्यवस्थाओं का भी सामना करना पड़ा था और इस बार भी अनुमान लगाया जा रहा था कि बारिश आ सकती है और कार्यक्रम बाधित हो सकता है लेकिन मौसम सुहावना बना रहा जिससे आयोजकों ने राहत की सांस ली। योग टीमों ने दिखाए अद्भुत करतब :

इस अवसर पर आर्यनगर की दो टीमों, शैशवकुंज, गांव देवा तथा सेंट कबीर स्कूल की योग टीमों ने योग के हैरतअंगेज करतब दिखाकर

उपस्थितगण को मंत्रमुग्ध कर दिया। मुख्यातिथि ने कार्यक्रम में उल्लेखनीय सहयोग करने वाली संस्थाओं व अधिकारियों को स्मृति चिह्न भेंट कर सम्म

ानित किया। मंच संचालन रामनिवास शर्मा ने किया। ये भी रहे मौजूद :

इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार, एसडीएम परमजीत ¨सह, प्रो. मनदीप मलिक, विधायक डा. कमल गुप्ता की धर्म

पत्?नी डा. प्रतिभा गुप्ता, गणेशदत्त शर्मा, अनिल सैनी मानी, संजय सैनी, सुनीता रेड्डू, डा. उमेश कालरा, डा. सरिता कालरा, कैप्टन नरेंद्र शर्मा, महाबीर

जांगड़ा, प्रवीण पूनिया, पशुपालन विभाग के उपनिदेशक डा. डीएस ¨सधु, डीएसओ सत¨वद्र गिल, डीआईपीआरओ पारू लता, आयुष विभाग से डा. महें

द्र पाल बंसल, डा. बलराज, डा. बिमल प्रकाश, डा. सुखबीर, डा. कमल, डा. मोनिका, डा. कर्ण¨सह, कोच नरेश मलिक, हरमेश, जगदीप, बिजेंद्र,

राजकुमार इंदौरा सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति भी मौजूद थे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप