चंडीगढ़, [अनुराग अग्रवाल]। दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) से छात्र राजनीति करते हुए कांग्रेस में बड़े मुकाम तक पहुंचे हरियाणा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष डा. अशोक तंवर की किस्मत आजकल उनका साथ नहीं दे रही है। अशोक तंवर अब कांग्रेस में नहीं रहे, लेकिन वह अपनी नई राजनीतिक दिशा भी अभी तक तय नहीं कर पाए हैं। उनका अधिकतर समय आजकल मोरनी के जंगलों में बीत रहा है। कुछ ऐसे साथियों के साथ, जो हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष रहते हुए उनके हर सुख दुख में साझीदार रहे हैं।

पहले कांग्रेस की दिल्ली रैली में हुई तंवर से मारपीट, फिर पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा के घर में हुई अभद्रता

उनके कुछ साथी साथ छोड़कर चले गए तो कुछ उन पर नया रास्ता चुनने का लगातार दबाव बना रहे हैं। अब अशोक तंवर अपनी नई राजनीतिक पारी शुरू करने को लेकर गंभीर नजर आ रहे हैं। पत्‍नी अवंतिका माकन तंवर इस काम में सहयोग के लिए अशोक तंवर के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी दिखाई दे रही हैं। अवंतिका ने आजकल अपनी सक्रियता बढ़ा रखी है। सिरसा में वह लोगों से मुलाकात करते हुए जनसुनवाई भी करती हैं।

पत्‍नी अवंतिका तंवर के तेवर नहीं पड़ रहे ढीले

हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष रहते हुए अशोक तंवर और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बीच हमेशा छत्तीस का आंकड़ा रहा है। इसकी शुरुआत 2014 के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले तब शुरू हो गई थी, जब हुड्डा ने तंवर को उनकी पसंद के टिकट नहीं लेने दिए थे। फिर इसके बाद दोनों में आरोप-प्रत्यारोप तथा दिल्ली दरबार की राजनीति में एक दूसरे को पीछे धकेलने का लंबा खेल चला, जो तब तक जारी रहा, जब तक अशोक तंवर ने कांग्रेस को अलविदा नहीं कह दिया।

इससे पहले अशोक तंवर के साथ दिल्ली रैली में उस समय मारपीट हुई, जब हरियाणा के कांग्रेसी प्रदर्शन कर रहे थे। इस मारपीट को तंवर ने खूब राजनीतिक मुद्दा बनाया। कांग्रेस ने विवाद को निपटाने के लिए पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे के नेतृत्व में एक जांच कमेटी भी बनाई, लेकिन यह किसी खास नतीजे पर नहीं पहुंच सकी और अशोक तंवर को समझा बुझाकर बैठा दिया गया। तब तंवर ने इस बात पर बहुत ज्यादा जोर दिया कि वह दलित हैं, इसलिए उनके साथ मारपीट की गई है। उनकी हत्या की साजिश तक रची गई थी।

कांग्रेस को अलविदा कहने के बाद अभी तक अपनी नई राजनीतिक दिशा तय नहीं कर पाए अशोक तंवर

2019 का चुनाव सिर पर आया तो हुड्डा और तंवर के बीच तनातनी बहुत ज्यादा बढ़ गई। हुड्डा गुट के विधायकों ने तंवर को हटाने के लिए पूरी ताकत के साथ अभियान छेड़ दिया। इस रस्साकसी में तंवर तो नहीं हट पाए, लेकिन हुड्डा के पार्टी छोड़ने के पूरे आसार बन गए। अपनी राजनीतिक ताकत दिखाने के लिए हुड्डा ने रोहतक में रैली की। तब लग रहा था कि हुड्डा अपनी अलग पार्टी बनाएंगे, लेकिन हुआ ठीक इसका उल्टा।

फिर तंवर ने कांग्रेस हाईकमान पर टिकट वितरण में मनमानी करने के आरोप लगाते हुए खुद ही पार्टी को अलविदा कह दिया। तब दूसरे राजनीतिक दलों को लगने लगा था कि अब कांग्रेस पूरी तरह से खत्म हो जाएगी, जबकि हुड्डा के लिए यह था कि उनकी राजनीतिक राह का बड़ा कांटा अशोक तंवर खुद ही पार्टी से निकल गए।

अशोक तंवर सिरसा से दो बार सांसद रह चुके हैं। पूर्व राष्ट्रपति डा. शंकर दयाल शर्मा की नातिन अवंतिका माकन तंवर उनकी धर्मपत्‍नी हैं। अवंतिका की यह दूसरी शादी है। उनके पहले पति सुचित शर्मा आर्मी में हैं। डा. शंकर दयाल शर्मा की धर्मपत्‍नी विमला शर्मा का हाल ही में देहावसान हुआ है। अवंतिका अपने पति अशोक तंवर के साथ उनके संस्कार में शामिल होने जब दिल्ली पहुंचीं तो वहां पहले पति सुचित शर्मा मौजूद थे।

अवंतिका का आरोप है कि उन्हें संस्कार में शामिल नहीं होने दिया गया और अशोक तंवर के साथ मारपीट की गई। इसकी शिकायत दिल्ली पुलिस में भी हुई। इस बात की पुष्टि खुद अवंतिका माकन तंवर ने की। हालांकि अशोक तंवर खुद बोलने को तैयार नहीं है, लेकिन जिस तरह से वहां उनका अपमान हुआ है, उसे देखकर लग रहा है कि अवंतिका किसी सूरत में चुप बैठने वाली नहीं है।

अशोक तंवर और अवंतिका माकन के तीन बच्चे हैं। एक बेटा पहले पति से है, जो फिल्मों में काम करने को तैयार नजर आ रहा है। उनकी हाल ही में एक वीडियो भी आई है, जो देशप्रेम के गीतों पर आधारित है। इस फिल्म की प्रोड्यूसर खुद अवंतिका माकन तंवर हैं। बाकी एक बेटा और एक बेटी दोनों अशोक तंवर से हैं, जो पढ़ाई कर रहे हैं।

तंवर से दुष्यंत-अभय और गोपाल कांडा की मुलाकातें खिलाएंगी गुल

अवंतिका अपने पति के साथ राजनीति में भी पूरी तरह से सक्रिय हैं।  वह समय-समय पर अपने पति के साथ उनका राजनीति में हाथ बंटाती हैं। अब अशोक तंवर और अवंतिका का अगला राजनीतिक कदम क्या होगा, इस पर सभी की निगाह टिकी हुई है। अवंतिका और तंवर के साथ दुष्यंत चौटाला, अभय सिंह चौटाला और गोपाल कांडा की पिछले दिनों हुई मुलाकातें क्या गुल खिलाती हैं, यह देखने वाली बात है।

यह‍ भी पढ़ें: आज से कोरोना को लेकर पंजाब में कड़े कदम लागू, जानें क्‍या हैं नई गाइडलाइंस


यह‍ भी पढ़ें: कमाल: हरियाणा के एक परिवार में 40 साल की मां की 34 साल की बेटी और 40 साल का बेटा


यह‍ भी पढ़ें: ह‍रियाणा सीएम मनोहर व केंद्र ने कहा- SYL मुद्दा सुलझने के करीब, पंजाब पानी देने को तैयार नहीं


यह‍ भी पढ़ें: SYL पर वार्ता के बाद अमरिंदर बोले-नहर बनी पंजाब मेें लगेगी आग, बन जाएगी राष्‍ट्रीय समस्‍या 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021