हिसार, जेएनएन। अब जल्‍द ही बॉलीवुड, पॉलीवुड, टॉलीवुड की तरह ही हरियाणा में भी कोई वुड बनने जा रहा है। फिल्म अभिनेता सतीश कौशिक ने कहा है कि हरियाणवीं फिल्‍म इंडस्ट्री बनाने का प्रयास कर रहा हूं। उन्‍होंने कहा मुंबई में सफलता हासिल कर खुद की मिट्टी के लिए कुछ कर सकूं यह भी मेरे लिए बड़ी बात है। वे सिरसा में हरियाणवी फिल्म के प्रमोशन पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा हरियाणा से बड़े स्टार निकलेंगे जो फिल्म इंडस्ट्री में अपना नाम कमाएंगे।

इससे पहले गरुवार को छोरियां छोरों से कम नहीं फिल्म के निर्देशक सतीश कौशिक हिसार पहुंचे थे। उन्‍होंने कहा कि हरियाणवी लठमार भाषा है। लेकिन उसमें प्यार और शहद मिला हुआ है। वह लोगों को स्पष्ट समझ आती और उसी के चलते इस बार हरियाणवी फिल्म बनाई। इस फिल्म में इंटरटेनमेंट और एक्शन है। यह फिल्म लोगों को पसंद आएगी।

उन्होंने कहा कि छोरियां छोरों से कम नहीं फिल्म की हिसार के सिनेमा घरों में शुरुआत हुई है। इसमें हरिणावीं कल्चर को दिखाया गया है। सतीश ने बताया कि पूरे देश में इस फिल्म को रिलीज किया गया है। हरियाणवीं भाषा बहुत प्यारी और मान्यता प्राप्त भाषा है। अच्छा कल्चर होने के कारण यह बॉलीवुड में भी छाई हुई है।

बॉलीवुड की फिल्मों में भी इसको लोगों ने सुना है। सुलतान और तनु वैड्स मनु फिल्म में तो विश्व स्तर पर यह भाषा गई। उन्होंने कहा कि हरियाणा में फिल्म की पॉलिसी बनवाने में कामयाब हुए है। करीब सात साल सरकार के पीछे पड़े रहे। अब कोई भी फिल्म बनेगी तो उसको बनाने पर सब्सिडी बनाई जाएगी। बाहर से यदि कोई फिल्म बनाता है तो उसको भी फायदा होगा।

कौशिक ने कहा कि भोजपुरी और पंजाबी फिल्मों को इंटरटेनमेंट और एक्शन के कारण अपनी पहचान मिली है और हरियाणवी फिल्मों को भी उसी स्तर पर पहचान दिलवाने के लिए प्रयास चल रहे है। उन्होंने कहा कि काफी लोगों इस फिल्म को हिन्दी में बनाने के लिए कहा लेकिन वह यदि ऐसा करते तो इसका नंबर नहीं आता। हरियाणवीं फिल्म को उसी अंदाज में बनाया गया है और वह इसे प्रदेश के लिए बना रहे है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: manoj kumar