जागरण संवाददाता, हिसार। गुरु जंभेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (जीजेयू) में आज से यूथ फेस्टीवल का शुभारंभ होने जा रहा था। मगर शुरुआत होने के साथ ही बवाल मच गया। मंच पर काफी संख्‍या में हाथ में पोस्‍टर लेकर छात्र आ गए। छात्रों ने जमकर नारेबाजी की और स्‍टेज पर ही धरना लगा दिया। हालात को संभालने के लिए सिक्‍योरिटी गार्ड ने आगे बढ़ना चाहा तो विवाद और भड़क गया और छात्राें ने आडोटोरियम में तोड़फोड़ शुरू कर दी। ग्रिल से लेकर कुर्सियां तक तोड़ दी गई। छात्राएं ये सब देखकर घबरा गई और अफरा तफरी का माहौल हो गया। इसके बाद छात्राओं को सभागार से बाहर निकाला गया।

दरअसल विवाद होने की वजह छात्रों ने बाइक का महंगा चालान किया जाना बताया। छात्रों ने आरोप लगाया कि बिना वजह, गलत मंशा से एक छात्र नेता की बाइक का कुछ दिन पहले चालान किया गया था। इसे सही करवाने को लेकर कई जगह बात की, मगर इसे अनसुना कर दिया गया।

अब विरोध करने के चलते कोई चारा नहीं रह गया था। ऐसे में यह कदम उठाया गया। वहीं जीजेयू प्रशासन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस को भी सूचना दी है। वहीं प्रस्‍तुति देने के लिए जीजेयू के अंतर्गत आने वाले कालेजों के बच्‍चों में निराशा बनी हुई है। क्‍योंकि वे लंबे समय से अभ्‍यास में जुटे हुए थे।

हालांकि युवा महोत्‍सव को लेकर सभी कालेजों के छात्र-छात्राओं में काफी जोश है। इस यूथ फेस्टीवल में सभी छात्र-छात्राएं धमाल मचाएंगे। सभी कालेजों से करीब 50 से ज्यादा छात्र-छात्राएं 40 से ज्यादा गतिविधियों में भाग लेंगे। चाहे वह डांस, पेंटिंग, क्विज, पोस्टर मेकिंग, सोलो डांस, हरियाणवीं व पंजाबी गीत-संगीत आदि सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेंगे। जीजेयू में यह यूथ फेस्टीवल 29 नवंबर से 2 दिसंबर तक चलेगा।

इन दिनों में सभी छात्र-छात्राएं अपनी प्रस्तुती देंगे और अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। यह यूथ फेस्टीवल तीन सालों के बाद होने जा रहा हैं। कोविड के चलते दो सालों के बाद यूथ फेस्टीवल नहीं हो पाया था। इस बीच छात्र भी हताश थे और इस कार्यक्रम में भाग लेने के इच्छुक थे। एक तरह से वह मानसिक परेशानियों से भी उभर पाएंगे। अब तीन सालों के बाद हो रहा है। ऐसे में छात्र भी खुश है। इस युवा उत्सव में 26 कालेजों की टीमें भाग लेंगी।

Edited By: Manoj Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट