झज्जर, जेएनएन। जब अपने ही बेटियों की आबरू लूटने पर उतारू हों तो किसी दूसरे से सुरक्षा की क्‍या उम्‍मीद की जा सकती है। झज्‍जर जिले में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। जिसने भी इस बात को सुना दांतो तले अंगुली दबा ली। एक गांव में रहने वाले अधेड़ उम्र के पिता पर उसकी किशोरी बेटी ने दुष्कर्म का केस दर्ज कराया है। इस मामले में पिता को उस दौरान गिरफ्तार किया गया, जब वह बस स्टैंड से भागने की फिराक में था।

10 सितंबर को पिता और उसकी किशोरी बेटी घर पर अकेले थे। इसी दौरान आरोपित पिता ने बेटी को अकेला पाकर दरिंदगी शुरू कर दी। बेटी के शोर मचाने पर आरोपित ने उसे जान से मारने की धमकी दी और दुष्कर्म किया। बेटी एक बार तो चुप हो गई, मगर वो अंदर ही अंदर घुटती रही, आखिर में सब्र का बांध टूट गया और उसने अपनी आपबीती परिजनों के सामने बताने का फैसला किया।

दो दिन बाद पीडि़ता ने हिम्मत करते हुए बृहस्पतिवार शाम को परिवार के अन्य सदस्यों के साथ पुलिस को शिकायत दी। वारदात के बाद से फरार हुए आरोपित को पुलिस ने बस स्टैंड से गिरफ्तार किया है। जांच अधिकारी ने बताया कि वारदात के बाद पीडि़ता काफी सहमी हुई है।

Posted By: Manoj Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप