सिरसा, जेएनएन। कोई गैरों से तो बच भी जाए मगर जब अपने ही आबरू लूटने पर आमादा हों तो कोई क्‍या करे। जिस पिता पर बच्‍चों की सुरक्षा का जिम्‍मा होता है जब वही रक्षक भक्षक बन जाए तो क्‍या हो। ये बातें महज कहने भर को नहीं बल्कि सिरसा जिले में सामने आए एक मामला आपको ये सोचने पर भी मजबूर कर देगा। जहां एक बाप ने अपनी ही नाबालिग बेटी की अस्‍मत लूट ली।

महज लूटी ही नहीं बल्कि इसी बीच बेटी गर्भवती भी हो गई और अब उसने एक बच्‍ची को जन्‍म दिया है। जिसने भी इस वाकये को सुना बस सन्‍न रह गया, वहीं पीडि़ता और परिवार के लोग सदमे से बाहर नहीं आ पा रहे हैं। अपनी बेटी की कोख से पति का बच्‍चा पैदा होने पर मां का रो- रो कर बुरा हाल है।

बता दें कि सिरसा के कालांवाली क्षेत्र में रहने वाली एक नाबालिग लड़की ने शनिवार को नागरिक अस्पताल में एक बच्ची को जन्म दिया है। चिकित्सकों के मुताबिक नवजात बच्ची व उसको जन्म देने वाली नाबालिग दोनों स्वस्थ है। वहीं मां बनी किशोरी ने बच्‍ची को अपने पास रखने की बजाय बाल कल्याण समिति को सरेंडर कर दिया है। ऐसे में मासूम नवजात बच्‍ची के दुनिया में आते ही उससे मां की गोद छिन गई।

पिता पर लगाए थे दुष्कर्म के आरोप

बच्ची को जन्म देने वाली नाबालिगा ने अपने पिता पर दुष्कर्म करने के आरोप लगाए थे। इस मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपित पिता को गिरफ्तार कर लिया था तथा जेल भेज दिया था। शनिवार प्रात: नाबालिग लड़की को प्रसव पीड़ा होने पर उसकी मां उसे लेकर नागरिक अस्पताल में पहुंची। जहां उसने एक बच्ची को जन्म दिया।

बच्‍ची को दिया जाएगा गोद

बाल कल्याण समिति अध्यक्ष अनीता वर्मा ने बताया कि शनिवार को नाबालिग लड़की ने बच्ची को जन्म दिया था। नवजात बच्ची को उन्होंने बाल कल्याण समिति को सरेंडर कर दिया है। नवजात बच्ची को शैशव कुंज हांसी या पंचकूला में भिजवाया जाएगा तथा वहां से गोद लेने के इच्छुक दंपती को गोद दिया जाएगा।

 

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस