जागरण संवाददाता, हिसार : आल हरियाणा पावर कारपोरेशन वर्कर यूनियन हेड आफिस हिसार की गेट मीटिग गुरुवार को राजगढ़ रोड स्थित बिजली निगम कार्यालय पर आयोजित की गई। इसमें एसई हिसार और एक्सईएन नंबर 2 के खिलाफ भारी संख्या में कर्मचारियों ने एकत्रित होकर नारेबाजी की और अपना रोष प्रदर्शन किया। गेट मीटिग की अध्यक्षता सर्कल सचिव ओम प्रकाश वर्मा और यूनिट नंबर 2 के प्रधान विजेंद्र पूनिया ने संयुक्त रूप से की, वहीं मीटिग का संचालन रमेश सातरोडिया ने किया। प्रदर्शन के दौरान एसई हिसार ने यूनियन को पत्र लिखकर 21 अक्टूबर को वार्ता के लिए बुलाया, जिसके चलते एसई हिसार के खिलाफ आंदोलन रोक दिया गया है। कर्मचारी नेताओं ने कहा कि अगर वार्ता मे समस्याओं का समाधान होता है तो ठीक है, अन्यथा कर्मचारी 21 अक्टूबर के बाद उनके खिलाफ फिर से आंदोलन करेंगे। वहीं दूसरी तरफ एक्सईएन नंबर दो ने 6 अक्टूबर 2021 को वार्ता में किए गए तबादले रद्द किए जाने के विरोध में उनके खिलाफ भी गुरुवार को भी 2 घंटे का प्रदर्शन किया गया और यह प्रदर्शन लगातार जारी रहेगा, जब तक कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान ना हो। गेट मीटिग में कर्मचारियों को संबोधित करते हुए राज्य कार्यकारिणी के नेता सूबेसिंह कादियान, जगमिदर पूनिया व दलीप सोनी ने कहा कि उक्तअधिकारी कार्यालय का माहौल खराब कर रहा है और विभाग में नियमों के खिलाफ तबादलों को रद्द करता है। इसके साथ ही ठेकेदारों से मिलकर बिजली कर्मचारियों की सुरक्षा से खिलवाड़ कर रहा है। उन्होंने कहा कि एक्सईएन ने 6 अगस्त 2021 को संगठन से वार्ता करके कुछ कर्मचारियों के तबादले निगम के हित में किए थे, लेकिन 8 अक्टूबर को अधीक्षक अभियंता ने गुमराह करके यह तबादले रद्द करवा दिए हैं। इसका संगठन पूरजोर विरोध करता है और लगातार कार्यकारी अभियंता मंडल दो के कार्यालय पर रोष प्रदर्शन किया जाएगा। गेट मीटिग में हांसी यूनिट के प्रधान सुरेंद्र हुड्डा, सर्कल सचिव दिलबाग जांगड़ा, नंबर 1 के प्रधान सुरेश रोहिल्ला, सब यूनिट के प्रधान राजवीर, अनिल, मुकेश गौतम, शैलेंद्र, जयवीर, बलवीर, सुरेश भयाणा व विरेन्द्र मौजूद थे।

Edited By: Jagran