जेएनएन, हिसार। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा कि कांग्रेस सिंबल पर निगम चुनाव नहीं लड़ रही है, इसलिए कोई पार्टी का प्रत्याशी नहीं है। सैद्धांतिक और नैतिक तौर पर वह प्रचार के लिए नहीं आएंगे। मगर जिस नेता ने बिना सिंबल चुनाव लड़ने की बात कही थी, वही अब अपना प्रत्याशी लेकर घूम रहा है। यदि वह उसे जिताना चाहता है तो अपनी जगह रहकर प्रचार करे।

तंवर हिसार में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जनता की भावना थी कि कांग्रेस सिंबल पर चुनाव लड़े, लेकिन बाद में कुछ लोगों ने विरोध कर दिया। वही नेताओं ने अपना प्रत्याशी उतारा और उसे साथ लेकर घूम रहे हैं। यदि कांग्रेस सिंबल पर चुनाव लड़ती तो आज प्रदेश में उसकी हवा होती। नेताओं को जनता की भावना के अनुरूप काम करना सीख लेना चाहिए।

राज्यमंत्री मनीष ग्रोवर के बयान पर  तंवर ने कहा कि जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान उनकी बंदूक, सुरक्षा कहां थी। उस समय तो उनके गनमैन ही दुकानों को लूटने में लगे थे। तंवर ने कहा कि जहाज उड़ान ले गया था, लेकिन अब वह थोड़ा नीचे आ गया है।

इनेलो में तीन सीएम और 35 दावेदार

जींद में बनने वाली नई पार्टी के सवाल पर तंवर ने कहा कि नई पार्टी का दूसरा नाम मैंने जमानत जब्त पार्टी भी सुना है। इनेलो वाले यदि एक और पार्टी भी बना लें तो कोई बड़ी बात नहीं। उनके वहां तीन मुख्यमंत्री हैं। घर में ही 35 लोग टिकट के दावेदार हैं।

ढंढूर में सीएम खड़े हो जाएं तो उनके फेफड़े खराब हो जाएं

तंवर ने कहा कि ढंढूर का हाल इतना खराब है कि यदि मुख्यमंत्री यहां 10 मिनट खड़े हो जाएं तो उनके फेफड़े खराब हो जाएं। उनको अस्पताल में भर्ती कराना पड़ेगा। ढंढूर के लोग जहरीली गैस में रह रहे हैं।