हिसार, जेएनएन। रिश्तों का कत्‍ल करने वाली कोई न कोई घटना इंसानियत को शर्मसार कर देती है। नारनौंद के पुट्ठी गांव में एक भाई जोगेंद्र ने अपने बड़े भाई 38 वर्षीय राजेंद्र की पीट-पीट कर हत्या कर दी। परिवार के लोग घायल राजेंद्र को किसी तरह अस्पताल लेकर गए लेकिन डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। दूसरी तरफ लाडवा में सुबह घूमने निकले 46 वर्षीय जगदीश की रंजिश के चलते पीट-पीट कर हत्या दी। दोनों हत्याओं के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है लेकिन अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

पुलिस के अनुसार नारनौंद केस में मृतक राजेंद्र अपने भाई के घर पर गया था। वह पत्नी सुमन को काम होने की बात कह कर निकला था। लेकिन जब वह काफी देर तक घर नहीं लौटा तो उसकी पत्नी पति को बुलाने के लिए देवर के घर पहुंच गई। वहां मौके पर देवर अपने भाई राजेंद्र को लाठियों से पीट रहा था। सुमन को देखकर उसका देवर वहां से चला गया। सुमन चिल्लाई तो वह मौके से भाग गया। शोर सुनकर आस पास के लोग एकत्रित हो गए और घायल राजेंद्र को उठाकर सिविल अस्पताल लेकर आए। वहां पर डाक्टरों ने राजेंद्र को मृत घोषित कर दिया।

सुबह निकले थे घूमने, हो गई हत्‍या

हिसार। लाडवा में सुबह भाई व परिवार के सदस्यों के साथ घूमने निकले 46 वर्षीय जगदीश की पीट-पीट कर हत्या दी। जगदीश पर हमला होने के बाद सतबीर ने उसको बचाने का प्रयास किया लेकिन वह भी घायल हो गया। घूमते हुए पीछे आ रहे परिवार के अन्य सदस्य भाग कर मौके पर पहुंचे लेकिन हमलावर भाग गए।

पुलिस के अनुसार सामान्य दिनों की तरह जगदीश, सतबीर व अन्य परिवार के सदस्य घुमने के लिए जाते है। रविवार सुबह वह घुमने गए तो उसी समय दो गाड़ियों में सवार 9-10 हमलावर उनके पास गाड़ी लेकर पहुंचे। आते ही सभी ने जगदीश पर हमला कर दिया। सतबीर ने भाई को बचाने का प्रयास किया तो वह भी घायल हो गया। उसी दौरान पीछे से परिवार के सदस्य पहुंचे तो हमलावर भाग गए। पुलिस ने अब जताई निवासी आत्माराम, अनिल, नवीन, कुलदीप सहित 9-10 अन्य हमलावरों पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस अभी किसी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप