सिरसा, जेएनएन। चौटाला परिवार के एकजुट होने की मुहिम खत्‍म होते ही फिर से अभय और अजय खेमे में जुबानी जंग तेज हो गई है। एक के बाद एक बयानों पर तीखे पलटवार किए जा रहे हैं। इनेलो छोड़ने वाले अशोक अरोड़ा को गद्दार बताने के अभय चौटाला के बयान पर जेजेपी नेता दिग्विजय चौटाला ने कहा कि इनेलो में अगर अशोक अरोड़ा एक साल से गद्दारी कर रहे थे तो उन्हें पार्टी से निकाला क्यों नहीं गया। उन्होंने सवाल किया कि जब अशोक अरोड़ा एक साल से गद्दारी कर रहे थे तो उन्हीं से दुष्यंत चौटाला व दिग्विजय सिंह को पार्टी से क्यों निकलवाया गया। वे सिरसा आवास पर पत्रकारों से बात कर रहे थे।

अभय सिंह चौटाला के अशोक अरोड़ा को गद्दार बताये जाने के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी में एक और व्यक्ति ऐसा है जो अभी भी गद्दारी कर रहा है। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए आरोप लगाया कि इसी गद्दार की वजह से चौ. ओम प्रकाश चौटाला व अजय सिंह चौटाला को जेल जाना पड़ा।

खाप का अपमान नहीं किया
खाप मुहिम को लेकर दिग्विजय चौटाला ने कहा कि सामाजिक रूप से परिवार एक है लेकिन फिर भी अगर खाप पंचायत परिवार को सामाजिक तौर पर कुछ सुझाव देना चाहती है तो वे तैयार है लेकिन राजनैतिक तौर पर उनकी राह अलग है। उन्होंने रमेश दलाल द्वारा माफी मांगने की बात पर कहा कि रमेश दलाल इनेलो के राष्ट्रीय महासचिव है और इनेलो की भाषा बोल रहे है। उन्होंने कहा कि वे खाप का सम्मान करते है और सदैव करते रहेंगे।

यह भी पढ़ें : HSSC : क्लर्क भर्ती परीक्षा नहीं हुई है स्थगित, वायरल हो रहा लेटर और ट्वीट दोनों ही फेक

दुष्यंत व नैना चौटाला लड़ेंगे विधानसभा चुनाव
परिवार से चुनाव लडऩे के सवाल पर उन्होंने कहा कि दुष्यंत चौटाला व नैना चौटाला विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे और दुष्यंत के उचाना से चुनाव लडऩे की बात दोहराई। खुद चुनाव लडऩे पर उन्होंने कहा कि पार्टी का फैसला उन्हें मान्य होगा। उनके ऊपर पार्टी के प्रचार की जिम्मेदारी होगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस