हिसार, जेएनएन। हिमाचल के बद्दी को एशिया का सबसे बड़ा फार्मा हब माना जाता है। अब बद्दी को हिसार फार्मा इंडस्ट्री विकसित करके टक्कर दे सकता है। इसके लिए प्रदेश सरकार ने हिसार में 2000 एकड़ में बल्क ड्रग पार्क बनाने की तैयारी कर ली है।  वीरवार को हिसार के लघु सचिवालय में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों के साथ मंत्रणा भी की। उन्होंने बताया कि सरकार की तरफ से केंद्र सरकार को एक प्रपोजल भेजा गया है। इस प्रपोजल में केंद्र से कहा है कि चूंकि हिसार में इंटीग्रेटेड एविएशन हब बनाने की तैयारी चल रही है, ऐसे में यहां बल्क ड्रग पार्क बनाए जाने की पूरी-पूरी संभावना है।

यह पार्क बनने से पहले दक्षिण हरियाणा विद्युत वितरण निगम के अधिकारियों से डिप्टी सीएम ने हिसार के बिजली लोड के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि निगम अपनी क्षमता को विकसित करे, क्योंकि इस प्रोजेक्ट के मंजूर होने के बाद कई फार्मास्युटिकल कंपनियां हिसार में अपना प्लांट लगा सकती हैं। इसके साथ ही पानी की सप्लाई पर भी चर्चा की गई। ताकि जब यह प्रोजेक्ट मंजूर हो तो किसी प्रकार की दिक्कत न पेश आए। इस बैठक में कोरोना को लेकर शारीरिक दूरी और केंद्र सरकार के नियम भी टूटते नजर आए।

---------------

ये होता है बल्क ड्रग पार्क

आम तौर पर देश में दवा निर्माण के लिए कच्चा माल चीन सहित अन्य देशों से निर्यात होता है। इन देशों से आने वाले उत्पादों का मिश्रण कर दवाओं को भारत में तैयार किया जाता है। यही कारण है कि दवाएं अपने ही देश में काफी महंगे दामों पर बिकती हैं। दवा कंपनियां चाह कर भी दवाओं के दाम नहीं घटा पातीं। केंद्र सरकार इस समस्या को दूर करने  के लिए बल्क ड्रग पार्क का कॉन्सेप्ट लाई है। इस पार्क में दवा कंपनियां दवा में प्रयोग होने वाले कच्चे माल से लेकर कई प्रकार की दवाओं को बना सकेंगी।

----------------

एयरपोर्ट में पर्यावरण स्वीकृति का पहला फेज मंजूर

डिप्टी सीएम ने यहां साफ किया कि अभी हिसार सिर्फ एयरपोर्ट है। कैबिनेट की मंजूरी के बाद इसे इंटरनेशनल एयरपोर्ट का दर्जा मिल सकेगा। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि वीरवार को एयरपोर्ट के लिए पर्यावरण स्वीकृति से जुड़ी पहली बैठक थी। जिसमें पहले फेज की मंजूरी मिल गई है। इस प्रकार से अभी कुछ और स्टेज पार करने के बाद एयरपोर्ट को पर्यावरण की स्वीकृति मिल सकेगी। इसके बाद ही एयरपोर्ट पर रनवे एक्सटेंशन और टर्मिनल बिङ्क्षल्डग का काम आगे बढ़ाया जा सकेगा।

-----------------

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर ही खरीदी जाएंगी फसलें: डिप्टी सीएम

किसानों द्वारा भारत बंद के आह्वान को लेकर डिप्टी सीएम ने कहा कि मैं तो इतना सुनिश्चित कर सकता हूं कि आने वाले समय में किसानों का धान व अन्य फसलें प्रदेश में न्यूनतम समर्थन मूल्य के आधार पर ही खरीदी जाएंगी। वहीं बड़ौदा चुनाव को लेकर डिप्टी सीएम ने कहा कि जजपा व भाजपा मिलकर चुनाव लड़ेंगीे।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला इस दौरान हिसार में जिला विभिन्न विकास परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने लंबित विकास कार्यों को पूरा करने के लिए सभी अधिकारियों की समय सीमा निर्धारित करते हुए लक्ष्य के अनुरूप कार्य करने के निर्देश दिए।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021