जागरण संवाददाता, हिसार: शहर निवासी एक सरकारी स्कूल के शिक्षक पर उसकी 15 वर्षीय बेटी ने उसकी मां और उससे मारपीट करने और घर से निकालने का आरोप लगाया है। पीड़िता का आरोप है कि उसके पिता के झगड़े की वजह से उसकी मां की मौत हुई थी, लेकिन पिता ने सबको हार्ट अटैक बताया था। 15 वर्षीय किशोरी ने एचटीएम थाना पुलिस को शिकायत दी है। शिकायत में बताया कि वह अपने माता पिता की इकलौती संतान है। उसके पिता बरवाला में सरकारी स्कूल में अध्यापक हैं। उसकी माता भी सरकारी अध्यापिका थी, जिसकी मार्च 2022 में मृत्यु हो चुकी है। उसके पिता उसकी माता के साथ मारने की नीयत से मारपीट करते थे। इसी कारण उसकी मां की मृत्यु हुई थी। उसके पिता ने सबको हार्ट अटैक बताया था और न ही कोई पोस्टमार्टम करवाया था। अब उसका पिता हर रोज उसेक साथ छोटी बातों पर झगडा करता है गाली-गलौच करता है। वह एक निजी स्कूल से 12वीं की पढ़ाई कर रही है। स्कूल की छुट्टिया के कारण अब कोचिग पर जाती है। कोचिग को लेकर भी उसके पिता झगड़ा करते है और उसे घर से बाहर नही जाने देते। उसके पिता के साथ दो अन्य लोग आते है जो उसकी हत्या करके पिता की दूसरी शादी करने की बात कहते है। 24 जून को करीब सात बजे वह अपने घर पर नानी के पास थी। उसके पिता ने उपरोक्त दो लोगों से मिलने के लिए के लिए कहा तो उसने मना कर दिया, क्योंकि इन लोगों की वजह से ही उसका पिता उसे और उसकी माता को पीटता था। उसके मना करने पर पिता ने उसे बहुत पीटा, ऊपर उठाकर जमीन पर नीचे पटक दिया। उसकी नानी बचाने के लिए बीच में आई तो उसको भी जान से मारने की धमकी दी और धक्का दे दिया। उसकी नानी अपना बचाव करके दूसरे कमरे मे चली गई। उसने डर के कारण किसी को कोई सूचना नही दी। बाद में उसने अपने मामा को फोन करके बताया। जिसने उसे सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया है। पुलिस ने शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है।

Edited By: Jagran