अग्रोहा, जेएनएन। मेडिकल कालेज के कोविड-19 अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में उपचाराधीन दड़ौली निवासी कोरोना पॉजिटिव युवक की 9वीं कंफर्म रिपोर्ट नेगेटिव आने से मेडिकल कालेज के चिकित्सकों सहित परिजनों ने कुछ राहत की सांस ली है। गाजियाबाद से लौटे गांव दड़ौली निवासी युवक का चिकित्सकों द्वारा शनिवार रात को कोरोना जांच सैंपल लिया गया था जिसकी रविवार शाम को रिपोर्ट नेगेटिव आई है। इससे पहले 8 रिपोर्ट में से युवक की 6 रिपोर्ट पॉजिटिव और 2 रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी हैं।

गाजियाबाद से 23 अप्रैल को लौटे युवक की 25 अप्रैल को रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अग्रोहा मेडिकल कालेज के आइसोलेशन वार्ड में दाखिल किया गया था। इसके बाद 30 अप्रैल को दूसरी रिपोर्ट पॉजिटिव, 6 मई को तीसरी रिपोर्ट पॉजिटिव, 10 मई का चौथी रिपोर्ट नेगेटिव, 12 मई को 5वीं रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। इसके बाद 15 मई को युवक की छठी रिपोर्ट वीक पॉजिटिव आई थी।

16 मई को 7वीं रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद 17 मई को एचआइवी और हैपेटाइटिस बी व सी की रिपोर्ट भी नेगेटिव पाई गई थी। 21 मई को युवक की 8वीं रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद युवक ने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को पत्र लिखकर सैंपल जांच को लेकर अवगत करवाया था। युवक ने पत्र में बताया था कि उसे कोई बीमारी नहीं है और ना ही कोरोना को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताए गए कोई लक्षण उसमें हैं।

इम्यूनिटी को नहीं होने दिया कमजोर

युवक ने बातचीत में बताया कि वह अपने आत्मबल को बढ़ाने के लिए योगा प्राणायाम सहित मेडिटेशन करता रहा। उसने अपनी इम्यूनिटी को कमजोर नहीं होने दिया। वह उपचार में लगे डाक्टर्स सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की गाइडलाइन को मानता रहा लेकिन बार-बार सैंपल्स की पॉजिटिव व नेगेटिव रिपोर्ट को लेकर वह मानसिक रूप से परेशान हो चुका था। आखिर में नेगेटिव रिपोर्ट आने पर मानसिक शांति महसूस कर रहा हूं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस