जागरण संवाददाता, हिसार : अमिताभ बच्चन के प्रसिद्ध कार्यक्रम कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर बड़े पैमाने पर जालसाजी चल रही है। यूपी और बिहार से पूरा नेटवर्क चलाया जा रहा है। यह साइबर गिरोह एसएमएस के जरिये लोगों को कहते हैं कि आपने कौन बनेगा करोड़पति घर बैठे खेल सकते हैं। यह कुछ प्रश्नों एसएमएस के जरिये, फेसबुक और वाट्सएस के जरिये भेजते हैं। अगर कोई प्रश्नों के जवाब देता है वह इनके चुंगल में फंस जाता है। प्रश्न के जवाब देते ही यह लोग मोबाइल नंबर मंगवाकर एसएमएस के जरिये 25 लाख की लॉटरी जितने का संदेश भेज देते हैं, जिसके कारण लोग इनकी बातों में आ जाते हैं।

यह जालसाल लॉटरी देने के लिए बैंक खाते और ई-वॉलेट के जरिये जीएसटी, इन्कम टैक्स और पंजीकरण शुल्क के नाम पर पैसा मांगते हैं और कहते हैं कि यह पैसा देने पर ही आपको 25 लाख रुपये खाते में दिए जाएंगे। कई लोग इनकी बातों में आकर रुपये दे बैठते हैं और ठगी का शिकार हो जाते हैं। इस तरह के मामले दक्षिण भारत में सबसे ज्यादा सामने आ रहे हैं। तेलंगाना पुलिस ने बकायदा इसके लिए एडवाइजरी जारी की है। तेलंगाना पुलिस ने पता लगाया है कि ऐसी ठगी के पीछे एक बड़ा नेटवर्क काम रहा है जो सुबह से लेकर शाम तक कई लोगों को संदेश भेजकर उन्हें ठगते हैं। साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन, साइबराबाद को अक्सर कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर लॉटरी धोखाधड़ी के संबंध में शिकायतें मिल रही हैं। पुलिस का कहना है कि जल्द ही इस नेटवर्क से जुड़े लोगों का पर्दाफाश किया जाएगा।

-----------

सोशल मीडिया पर रहने वाले लोग बचकर रहें

इस प्रकार के लॉटरी धोखाधड़ी को रोकने के लिए, आम तौर पर जनता में जागरूकता पैदा होना होगा। जो सोशल मीडिया प्लेटफार्मों जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप, एसएमएस पर पोस्ट किए गए लॉटरी या पुरस्कारों की ओर आकर्षित होते हैं और साइबर जालसाजों को बड़ी राशि खो देते हैं।

----------

इन बातों का रखें ध्यान

- जालसाजों की बातों पर आंख मूंदकर विश्वास न करें और उनके साथ बैंक खाता, कार्ड या ई-वॉलेट विवरण साझा करें।

-पैसे ट्रांसफर करने से पहले दोस्तों और माता-पिता के साथ एक विचार और चर्चा करें।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप