हिसार [पिंकू यादव] गणेश चतुर्थी देशभर में बड़े स्तर पर मनाया जाने वाला त्योहार है। इसी के चलते घरों में गणपति की स्थापना भी शुरू हो गई है। जहां इस साल कारीगरों ने गणपति की मूर्तियों की प्रतिमा को डिफरेंट शेड्स और डिजाइंस में बनाया है वहीं दूसरी ओर यंग जनरेशन में गणपति के टैटू का क्रेज है।

एक्सपर्ट राहुल वालिया का कहना है कि युवा पीढ़ी हर साल इस तरह के टैटू बनवाते हैं। उनका कहना है कि कुछ लोग टैटूज के जरिए अपनी श्रद्धा व आस्था दिखा रहे हैं। गणेश के टैटू का ट्रेंड इन दिनों लोगों में अधिक उभर कर आया है। जहां कहीं लोगों ने कलरफुल गणेश टैटू बनवाए हैं तो वहीं कहीं लोगों ने माँ-पा विद गणेश भी बनवाए हैं। गणेश टैटू के अलावा इन दिनों मॉकेट में मीनिंगफुल और कलरफुल टैटू का ट्रेंड भी है।

एक्सपर्ट की राय

- जिन लोगों को किसी प्रकार की एलर्जी या रंगों से एलर्जी है तो वे लोग टैटू बनवाने से बचें। वहीं सरकारी नौकरी के लिए आवेदन करने वाले लोगों को भी टैटू नहीं बनवाने चाहिए। टैटू किसी जानकार विशेषज्ञ से ही बनवाएं, इसे बनाने की सही जानकारी नहीं होने से कई तरह के नुकसान हो सकते हैं या बनाते समय किसी तरह की चोट भी लग सकती है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस