जागरण संवाददाता, हिसार : सरकार ने गरीब, जरूरतमंद और आश्रयहीन लोगों के लिए टेंपरेरी राशन टोकन सिस्टम तैयार किया। इसे सिरे चढ़ाने की जिम्मेदारी जिन्हें सौंपी गई वे गरीबों तक समय पर राशन पहुंचाने में सफल तो नहीं हो रहे लेकिन जनता का पसीना जरूर छुड़ा रहे हैं। 45 डिग्री से अधिक तापमान में भी बुजुर्ग, बीमार व महिलाओं तक निगम से लेकर बीएलओ और पार्षद चक्कर काट रहे हैं। यह कहना है पार्षद शालू दीवान व पूर्व पार्षद पंकज दीवान, पार्षद जगमोहन मित्तल सहित कई पार्षदों का। पार्षद शालू दीवान और पूर्व पार्षद पंकज दीवान ने अफसरों व बीएलओ पर फर्जीवाड़े का आरोप लगाते हुए कहा कि सीएम मनोहर लाल ने जब जरूरतमंद को राशन पहुंचाने से लेकर लिस्ट दुरुस्त करने के आदेश दिए हैं। इसके बावजूद निगम प्रशासन और बीएलओ गरीब जनता को चक्कर कटवा रहे हैं। जो फार्म जनता ने निगम में दर्ज करवाए, वे उन्हें वापस लौटा दिए हैं। बीएलओ सर्वे के नाम पर पहले ही फर्जीवाड़ा कर चुके हैं। अब सर्वे से बचने के लिए पार्षदों के पास फार्म साइन के लिए भेज रहे हैं। जबकि लिस्ट दुरुस्त करने के लिए सर्वे की जिम्मेदारी उनकी है। टोकन के नाम पर अभी भी बीएलओ खेल खेल रहे हैं। वे अपनी ड्यूटी करने के बजाय पंजाबी धर्मशाला में बैठकर कागजी औपचारिकताएं कर रहे हैं। मेरे वार्ड में करीब 8 बीएलओ हैं, आज तक फील्ड में हमारे पास दो ही दिखे हैं। जिन लोगों ने निगम में फार्म जमा करवाए उन्हें देकर हमारे साइन के लिए भेजना मानसिक व शारीरिक प्रताड़ित करना भी है। मेरी मांग है कि राशन टोकन मामले में बड़े स्तर पर जांच होनी चाहिए। इसमें कई अहम खुलासे हो सकते हैं।

-----------------

एक वार्ड के टोकन दूसरे वार्डो में पहुंच रहे

पार्षद अमित ग्रोवर ने कहा कि वार्ड 7 के लोगों के टोकन वार्ड 14 में पहुंच गए हैं। ऐसे में मेरे सामने दो मामले आए हैं, जिन लोगों के टोकन दूसरे वार्ड में पहुंच गए हैं। टोकन वितरण में भी खामियां सामने आ रही हैं। ऐसे में सर्वे कैसा हो रहा है, यह अंदाजा लगाया जा सकता है।

--------------------

आखिर कब बाटेंगे राशन

पार्षद जगमोहन मित्तल ने कहा कि सरकार अप्रैल मई और जून तीन माह का गरीबों को राशन वितरण की प्लानिग तो कर ली लेकिन मई बीतने को है, अब तक बहुत लोगों को राशन ही नहीं मिला है। ऐसे में कब सर्वे पूरा होगा। कब लोगों को टोकन मिलेगा और इसके बाद कम राशन मिलेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस