जागरण संवाददाता, हिसार : बारिश में बदहाल स्थिति में रहने को मजबूर सातरोड निवासियों की समस्याओं के समाधान होने की उम्मीद जागी है। सोमवार को नगर निगम कमिश्नर अशोक गर्ग ने सातरोडवासियों के आग्रह पर निगम इंजीनियरों के साथ वार्ड-11 का निरीक्षण किया।असंतोषजनक हालात देखकर कमिश्नर ने इंजीनियर को 10 दिन की डेडलाइन देते हुए विकास की रफ्तार तेजी करने के लेकर लोगों की समस्याओं के समाधान के लिए आदेश दिए।उधर शहरी स्थानीय निकाय के चीफ इंजीनियर रामजीलाल ने अमृत योजना के तहत सातरोड में चल रहे एसटीपी का निरीक्षण किया। इंजीनियरों को कार्य की नियमित मॉनीटरिग करने के आदेश दिए।

------------------------

क्षेत्रवासी लंबे समय से कर रहे पानी निकासी की समस्या के समाधान की मांग

सातरोड में पानी निकासी की व्यवस्था उचित नहीं है। ऐसे में लंबे समय से क्षेत्रवासी निगम में पानी निकासी की समस्या के समाधान की मांग कर रहे थे। सोमवार को जब कमिश्नर ने सातरोड वासियों की मांग पर औचक निरीक्षण किया तो गलियों में जलभराव था। सफाई व्यवस्था के बदत्तर हालत थे। अमृत योजना के तहत गलियां खोदकर छोड़ी हुई थीं। कमिश्नर ने पार्षद व वार्डवासियों के साथ मिलकर 2 घंटे तक निरीक्षण किया। इस दौरान एक्सईएन एचके शर्मा, संदीप सिहाग और संदीप कुमार, एमई प्रवीण वर्मा, सीएसआइ सुभाष सैनी, पार्षद प्रतिनिधि पप्पू सैनी, कर्मबीर मौजूद रहे।

------------

चीफ इंजीनियर ने एसटीपी का किया निरीक्षण

चीफ इंजीनियर रामजीलाल ने वार्ड-11 में एसटीपी का निरीक्षण किया। अमृत योजना के तहत चल रहे कार्य का इंजीनियरों के साथ मौका देखा। वार्ड-11 में उन्होंने अमृत योजना के अंतर्गत बिछाई जा रही सीवरेज व पेयजल लाइन के कार्य के बारे में जानकारी जुटाई। चीफ इंजीनियर रामजीलाल ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि अमृत योजना के कार्य में कोई कोताही न बरती जाए। एजेंसी के प्रत्येक कार्य को मॉनिटर किया जाए, जिससे काम की गुणवत्ता बेहतर हो सके।

--------------

अमृत योजना के तहत हो रहे विकास कार्यों का निरीक्षण किया है। निगम इंजीनियरों को कार्य की नियमित मॉनीटरिग के संबंध में दिशा निर्देश दिए हैं।

- रामजीलाल, चीफ इंजीनियर, यूएलबी, हरियाणा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस