जागरण संवाददाता, हिसार : राजगढ़ रोड पर सुंदरीकरण का काम चल रहा है। एक माह से सड़क के दोनों ओर फुटपाथ पर लगी इंटरलॉ¨कग टाइलों को उखाड़ दिया गया है। फुटपाथ पर इंटरलॉ¨कग टाइलें नगर निगम की ओर से लगवाई गई थीं। ये पुरानी टाइलें निगम अन्य जगहों पर लगवा रहा था। मगर, बीएंडआर ने जिस कंपनी को ठेका दिया था। उसके ठेकेदार ने रातोंरात इन टाइलों को बेचने का काम शुरू कर दिया। जिसकी सूचना उपायुक्त अशोक कुमार मीणा को मिली और उनके आदेशों पर निगम ने कार्रवाई की। निगम अधिकारियों ने बीएंडआर को पत्र लिख धांधली करने वाली एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। अब देखना यह है कि बीएंडआर विभाग के अधिकारी सरेआम धांधली करने वाली एजेंसी के ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई करते हैं या चुप्पी साध जाएंगे।

बता दें कि इंटरलॉ¨कग टाइलें बेचने का मामला गंभीर है। बीएंडआर ने राजगढ़ रोड के सुंदरीकरण को लेकर छह करोड़ रुपये का टेंडर लगाया हुआ है। एक एजेंसी को यह टेंडर दिया गया था। उस एजेंसी ने छोटे-छोटे ठेकेदारों को यह टेंडर दे दिया। जो नियमानुसार पूरी तरह से गलत है। हैरानी की बात यह है कि बीएंडआर के अधिकारियों को जानकारी होने के बावजूद उन्होंने इस सबलेट सिस्टम को खत्म करने की कोशिश नहीं की। जिससे सरकार के पैसे से होने वाले क्वालिटी वर्क पर संशय पैदा हो गया है।

..

यह था मामला

उपायुक्त अशोक कुमार मीणा को छह सितंबर रात सवा आठ बजे राजगढ़ रोड से इंटरलॉ¨कग टाइलें ट्रैक्टर ट्रॉली में अवैध रूप से डालकर ले जाने की सूचना मिली थी। उन्होंने फोन पर निगम आयुक्त अशोक बंसल को मामले की जांच करने के आदेश दिए। निगम आयुक्त ने कार्यालय में मौजूद एमई को मौके पर भेजा। एमई ने मौके पर पाया कि कोई ट्रैक्टर ट्रॉली में फुटपाथ से उखाड़ी पुरानी इंटरलॉ¨कग टाइलें भर रहा था। एमई ने जब ट्रैक्टर ट्रॉली मालिक से बातचीत की तो खुलासा हुआ कि ठेकेदार छह रुपये प्रति इंटरलॉ¨कग टाइल बेच रहा है। जबकि टाइलों का मालिक नगर निगम है। इस मामले में विस्तृत रिपोर्ट निगम आयुक्त को सौंपी गई। निगम आयुक्त ने बीएंडआर के अधिकारियों को पत्र लिखकर टेंडर लेने वाली एजेंसी पर कार्रवाई करने के आदेश दिए।

....

नंदीशाला में लगनी थीं टाइलें निगम अधिकारियों के अनुसार फुटपाथ उखाड़ी जाने वाली टाइलें पहले स्लम एरिया में लगवाई गई है। मौजूदा समय में फुटपाथ की टाइलों को नंदीशाला में लगवाया जाना है। निगम के कर्मचारी इंटरलॉ¨कग टाइलों को वहीं लेकर जा रहे थे। घटना के बाद अधिकारियों ने सीएसआइ को आदेश दिए है कि नियमित रूप से ट्रैक्टर ट्रॉली लगाकर टाइलें उठाई जाए। जिससे भविष्य में इस प्रकार की धोखाधड़ी न हो।

...

कोट्स :::

- नगर निगम की ओर से बीएंडआर एक्सईएन को पत्र लिखा गया है। पत्र के माध्यम से ठेका लेने वाली एजेंसी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है।

- प्रवीण कुमार, एमई, नगर निगम।

Posted By: Jagran