जागरण संवाददाता, रोहतक। पीजीआइ में शनिवार को कोरोना केसों की बढ़ी संख्या सामने आई है। 24 चिकित्सकों सहित 77 हेल्थ केयर वर्कर संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमितों का बढ़ता आंकड़ा चिंताजनक हालात बनाए हुए हैं। संक्रमितों में पीजीआइ के 20 इंटर्न, दस स्टाफ नर्स, आठ मिनिस्ट्रियल स्टाफ, नौ पैरामेडिकल स्टाफ व दो स्वीपर शामिल हैं। वहीं पीजीआइ में इस समय 29 मरीज भर्ती हैं। जिनमें से चार की हालत गंभीर होने के चलते उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है। उपचाराधीन मरीजों मे सात पीजीआइ के हेल्थ केयर वर्कर शामिल हैं।

जिले में आए 239 नए केस

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार जिले में शनिवार को 239 नए केस आए हैं। विभाग की ओर से जिले में शनिवार को कोविड-19 के 1716 सैंपल जांच के लिए भेजे गए, जिनमें से 239 व्यक्ति पाजिटिव पाए गए, जबकि 468 सैंपल का परिणाम आना शेष है।

कोरोना संक्र्रमण दर 4.26 प्रतिशत व रिकवरी दर 94.08 प्रतिशत हो गई है। जिले में अब तक 638432 व्यक्तियों को सर्वेलेंस पर रखा गया, जिनमें संक्रमितों के सम्पर्क में आए व्यक्ति भी शामिल है। जिले में अब तक कोविड-19 के छह लाख 38 हजार 915 सैंपल लिए गए हैं, जिनमें से 27279 सैंपल पॉजिटिव पाए गए तथा छह लाख 11 हजार 168 सैंपल निगेटिव पाए गए। इनमें से उपचार के बाद 25686 व्यक्ति स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके है। जिले में कोविड-19 का 1027 सक्रिय मरीज है, जिनमें से चार मरीज अस्पताल में व बाकी सभी मरीज डाक्टरों की सलाह पर घर पर उपचार ले रहा हैं।

4177 को लगी वैक्सीन डोज

टीकाकरण अभियान के तहत अब तक 1442910 डोज दी जा चुकी है। जिले में 4177 व्यक्तियों को कोरोनारोधी टीका लगाया गया। इनमें से 1658 व्यक्तियों को प्रथम डोज तथा 2352 व्यक्तियों को दूसरी डोज लगाई गई।

हेल्थ केयर वर्कर को अब तक 25204 डोज, फ्रंटलाइन वर्कर को 15956 डोज व 15 से 17 आयु वर्ग में 25364 डोज लगाई जा चुकी है। 18 से 44 आयु वर्ग में 851253 डोज, 45 से 60 आयु वर्ग में 295272 डोज व 60 वर्ष या इससे अधिक आयु वर्ग में 229861 डोज लगाई जा चुकी है। -167 को लगी बूस्टर डोज

167 ने लगवाई बूस्टर डोज

रोहतक में शनिवार को 167 बूस्टर डोज भी लगाई गई है, जिनमें से 99 कोविशिल्ड तथा 68 को-वैक्सीन बूस्टर डोज शामिल है। हेल्थ केयर वर्कर को 54 कोविशील्ड तथा 11 कोवैक्सीन की बूस्टर डोज लगाई गई। फ्रंटलाइन वर्कर को 11 कोविशील्ड तथा एक कोवैक्सीन की बूस्टर डोज लगाई गई। इसी प्रकार 60 वर्ष से अधिक आयु के 34 व्यक्तियों को कोविशील्ड तथा 56 व्यक्तियों को कोवैक्सीन की बूस्टर डोज लगाई गई है।

Edited By: Rajesh Kumar