जागरण संवाददाता, सिरसा। विश्व कार मुक्त दिवस पर पुलिस अधीक्षक डा. अर्पित जैन अपने आवास से पैदल चलकर कार्यालय पहुंचे। उनके अलावा अतिरिक्त उपायुक्त सुशील कुमार, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी अनुराधा तथा सीटीएम गौरव गुप्ता भी बिना गाड़ी के पैदल ही अपने आफिस पहुंचे। सुबह सवेरे अधिकारियों को सुरक्षा कर्मियों के साथ पैदल आते देखकर हर कोई हैरान हुआ। बाद में आमजन को मालूम हुआ कि विश्व कार मुक्त दिवस पर अधिकारी आमजन को वाहन छोड़ पैदल, साइकिल चलाने अथवा जन परिवहन के साधन उपयोग करने का संदेश देने के लिए कार्यालय तक पैदल आए हैं।

एसपी बोले आमजन के साथ साथ थाना प्रभारी भी करें पैदल गश्त

पुलिस अधीक्षक डा. अर्पित जैन ने कहा कि विश्व कार मुक्त दिवस पर निजी वाहनों का उपयोग न करें और भावी पीढ़ियों के लिए पर्यावरण संरक्षित रखें। उन्होंने कार फ्री डे को लेकर लोगों से अपील करते हुए कहा कि विश्व कार मुक्त दिवस के दिन कम दूरी पर जाने के लिए पैदल जा सकते है। पैदल यात्रा के अलावा साइकिल का भी प्रयोग किया जा सकता है । उन्होंने कहा कि सभी थाना प्रभारियों व पुलिस अधिकारियों से कहा गया है कि कार मुक्त दिवस पर अपने-अपने क्षेत्रों में पैदल गश्त की जाए तथा आम लोगों को भी कार मुक्त दिवस के बारे में जागरुक किया जाए । उन्होंने कहा कि मोटर चालकों को एक दिन के लिए अपनी कार को नही चलाने का आह्वान किया। 

पर्यावरण संरक्षण जन सरोकार से जुड़ा विषय : एडीसी

अतिरिक्त उपायुक्त सुशील कुमार ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण जन सरोकार से जुड़ा विषय है, इसलिए सभी को पर्यावरण को स्वच्छ व संतुलित बनाने की दिशा में अपना सहयोग करना चाहिए। पर्यावरण संरक्षण के लिए अधिक से अधिक पौधारोपण करें, साथ ही पर्यावरण हितैषी साधनों का इस्तेमाल करते हुए जागरूकता का परिचय दें। उन्होंने कहा कि विश्व कार मुक्त दिवस मनाने का भी यही उद्देश्य है कि आमजन प्रदूषण को कम करने की दिशा में किए जाने वाले कार्यों के साथ जुड़कर पर्यावरण संरक्षण में अपनी भागीदारी निभाएं।

मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी अनुराधा।

पर्यावरण संरक्षण के लिए निभानी होगी सबको जिम्मेवारी

मुख्य न्यायिक दंड़ाधिकारी अनुराधा भी पैदल अपने कार्यालय में पहुंची। उन्होंने कहा कि विश्वभर में 22 सितंबर नो कार डे के रूप में मनाया जाता है ताकि लोग अपने व्हीकल्स छोड़कर पैदल चले और प्रदूषण से कुछ राहत मिल सके। पर्यावरण संरक्षण के लिए हम सबको अपनी जिम्मेवारी निभानी होगी, तभी हम आने वाली पीढ़ियों को स्वच्छ व साफ वातावरण दे सकते हैं।

 

सीटीएम गौरव गुप्ता।

पर्यावरण संरक्षण आज की सबसे बड़ी जरूरत : नगराधीश

नगराधीश गौरव गुप्ता ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण आज सबसे बड़ी जरूरत है। इसके लिए सभी को अपना सहयोग करना चाहिए, ताकि प्रदूषण कम हो और एक स्वच्छ व संतुलित वातावरण बनें। 

Edited By: Rajesh Kumar