जागरण संवाददाता, हिसार : चौधरी चरण ¨सह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में 14 व 15 सितंबर को एडंटिफिकेशन ऑफ इंडस्ट्री नीडस एंड स्किल गैपस फार मार्केट ड्राइवन एग्रीकल्चर विषय पर दो दिवसीय इंडो-यूएस ब्रेनस्र्टाे¨मग कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केपी ¨सह इस कार्यशाला का शुभारंभ करेंगे। कार्यशाला में अमेरिका की मिशिगन स्टेट यूनिवर्सिटी और हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों सहित विभिन्न कृषि संबंधित उद्योगों के प्रतिनिधि, उद्यमी और विश्वविद्यालय के स्नातक व स्नातकोत्तर छात्र व पूर्व छात्र भाग लेंगे और कार्यशाला के विषय को लेकर विस्तार से चर्चा करेंगे।

उल्लेखनीय है कि इस विश्वविद्यालय को स्ट्रेंथ¨नग इंस्टीट्यूशनल केपेसिटी टू प्रोड्यूस स्किल्ड प्रोफेशनल फार मार्केट ड्राइवन एग्रीकल्चर विषय पर 24.83 करोड़ रूपए की एक परियोजना भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् से प्राप्त हुई है। इस परियोजना का 31 मई, 2018 को हरियाणा राजभवन, चंडीगढ़ में शुभारंभ किया गया था। कृषि कॉलेज के डीन एवं परियोजना के मुख्य अन्वेषक डा. केएस ग्रेवाल ने बताया कि इस कार्यशाला में विश्वविद्यालय-उद्योग से जुड़े छात्रों व अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों को आपस में जोड़ने और भविष्य की उद्योग की आवश्यकताओं के मध्य न•ार शिक्षा में सुधार/परिवर्तन के बारे में विचार-विमर्श किया जाएगा, ताकि मौजूदा शिक्षा प्रणाली के मानक को श्रेष्ठ बनाने के लिए एक समग्र मॉडल विकसित किया जा सके। इससे अधिक से अधिक उद्यमशीलता एवं रो•ागार के अवसरों में विस्तार हो सकेगा। उन्होंने बताया इस कार्यशाला में आपसी विचार-विमर्श से बाजार संचालित कृषि के लिए अनिवार्य जरूरतों और कौशल की पहचान भी की जाएगी

Posted By: Jagran