हिसार, जेएनएन। पुलिस अगर वक्‍त  पर न पहुंचे तो कई बार आम आदमी ही अपनी मदद खुद करने के लिए मजबूर हो जाता है। हिसार में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया है। कृष्णा नगर में शनिवार रात को पुलिस की लापरवाही का एक बड़ा मामला सामने आया। कार सवार एक युगल ने घर से फरार होने की कोशिश की। लड़की के परिजनों ने बाइक से पीछा करके कार रोक ली।

शोर-शराबा होने पर मोहल्ले के लोग इकट्ठा हा गए। लड़की के साथ किसी तरह की अनहोनी की आशंका के चलते मोहल्लावासियों ने पुलिस को सूचित कर दिया। पुलिस के नाम पर लड़की के परिजन सहम गए। परिजनों ने न तो लड़की को कुछ कहा और न ही लड़के को। पुलिस का इंतजार होने लगा। इंंतजार में दस मिनट बीते, आधा घंटा बीता, एक घंटा बीता। जब पुलिस नहीं आई तो परिजन अपनी लड़की को ले गए। लड़का अपनी कार लेकर चला गया। मोहल्ला वासी भी अपने-अपने घर चले गए।

डेढ़ घंटे बाद पुलिस पहुंची, तब कुछ मोहल्ले वाले खड़े थे। उनकी पुलिस कर्मचारियों के पहुंचते ही बहस हो गई। लोगों में पुलिस कर्मचारियों के देरी से आने पर काफी रोष था। मोहल्लेवासी राजीव वर्मा, श्रीचंद, वीरेंद्र, महेंद्र आदि ने बताया कि कंट्रोल रूम में फोन किया तो उनको पुलिस के आने का जवाब मिला। सिविल लाइन, सिटी थाने तक फोन किए लेकिन पुलिस नहीं आई। दोबारा कंट्रोल फोन किया तो जवाब मिला कि बार-बार फोन न करें। इसके बाद लोग पुलिस का इंतजार करते रहे मगर पुलिस समय पर नहीं आई।

मोहल्लावासियों ने कहा कि लड़का-लड़की शहर के किसी मोहल्ले के थे। लड़की बोल रही थी कि उसको लेने उसके पिता, चाचा व अन्य परिवार के लोग आए हैं। परिवार के लोग बाद में लड़की को ले गए तो पुलिस मौके पर पहुंची। आखिर में पुलिस भी जांच के नाम पर औपचारिकता करके लौट गई।

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस