जागरण संवाददाता, हिसार: केंद्र सरकार संविधान में एससी, एसटी व ओबीसी को मिले मौलिक अधिकार को समाप्त करने का षड्यंत्र रच रही है। यह बात कांग्रेस पार्टी के प्रदेश मुख्य प्रवक्ता बजरंग गर्ग ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा परिजात चौक पर दिए गए धरने को संबोधित करते हुए कही। इस दौरान जिला उपायुक्त के माध्यम से राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

बजरंग गर्ग ने कहा कि केंद्र सरकार उत्तराखंड सरकार के साथ मिलकर षड्यंत्र रचकर इन वर्गो का मौलिक अधिकार खत्म करना चाहती है। उत्तराखंड सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दलील दी है कि एससी, एसटी व ओबीसी वर्गों को संविधान में सरकारी नौकरियों व प्रमोशन में आरक्षण का मौलिक अधिकार नहीं है। गर्ग ने कहा कि इससे साफ सिद्ध हो जाता है कि आरक्षण के अधिकार को भाजपा पूरी तरह खत्म करना चाहती है। जबकि कांग्रेस पार्टी ने हमेशा ही गरीबी हटाओ की नीति पर काम करते हुए गरीबों व आम जनता के हित में अनेक योजनाएं लागू करके हर वर्ग को राहत देने का काम किया है।

गर्ग ने कहा कि भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण देश व प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ी है। प्रदेश के युवा उच्च शिक्षा प्राप्त करके नौकरियों के लिए दर-दर भटक रहे हैं और भाजपा राज में महंगाई चरम सीमा पर है। आम आदमी अपने घर का गुजारा भी मुश्किल से कर पाता है। धरने प्रदर्शन में पूर्व मंत्री सुभाष गोयल, एचपीएससी के पूर्व सदस्य जगन्नाथ, वरिष्ठ कांग्रेस नेता धर्मबीर गोयत, पूर्व चेयरमैन राजेन्द्र सूरा, नलवा पूर्व कांग्रेस प्रत्याशी रणधीर पनिहार, भूपेन्द्र गंगवा, राम निवास राड़ा, बाला देवी, ओपी पंघाल, हरिकृष्ण, पूर्व प्रवक्ता अश्वनी शर्मा, अनिल मान, ट्रिब्यूनल पूर्व सदस्य हरपाल सिंह बूरा, प्रवक्ता एडवोकेट मुकेश सैनी, सज्जन सिंह बड़गुज्जर, जिन्दल हाउस प्रतिनिधि ललित शर्मा, लीगल सेल चेयरमैन एडवोकेट संदीप, पूर्व चेयरमैन बिहारी लाल राड़ा, सीताराम सिगल, शहरी जिलाध्यक्ष स्नहेलता निम्बल, पार्षद जगमोहन मित्तल, छत्रपाल सोनी, पार्षद कृष्ण सातरोड़िया, जिला अध्यक्ष ग्रामीण महिला कांग्रेस एडवोकेट कमला शहरावत, पूर्व चेयरमैन योगेन्द्र योगी, पार्षद प्रतिनिधि सुशील शर्मा आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस