संवाद सहयोगी, हांसी : भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते नगर परिषद में तहलका मचाने वाले कथित ऑडियो की जांच विधानसभा चुनावों के चलते धीमी पड़ गई है। नगर परिषद के अधिकारियों की ड्यूटी चुनाव में लगी हुई है व ऑडियो की जांच अधर में लटकी हुई है। ऑडियो में नगर परिषद पर कई गंभीर सवाल खड़े हुए थे। ऑडियो में एक व्यक्ति प्रधानमंत्री आवास योजना की फाइलों को पास करवाने के एवज में पैसे की डिमांड कर रहा है। इस मामले में एसडीएम ने ईओ को जांच कर रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए थे।

गौरतलब है कि शहर में एक ऑडियो वायरल है जिसमें एक व्यक्ति प्रधानमंत्री आवास योजना की फाइल पास कराने के नाम पर पैसे की डिमांड कर रहा है। ऑडियो में चरणजीत नाम का व्यक्ति बोल रहा है कि पैसे दिए बगैर फाइल पास नहीं होगी। ऑडियो सामने आने के बाद नगर परिषद प्रशासन अधिकरियों के पसीनें छूट गए थे।

नगर परिषद की फाइलों को पास करवाने के नाम पर पैसे लिए जाने का मामला पार्षदों के बीच भी खूब चर्चा में है। प्रधानमंत्री आवास योजना के सदस्य सीमांत चौधरी ने भी एसडीएम से इस मामले में जांच करवाने की गुहार लगाई थी। इस मामले में एसडीएम विरेंद्र सहरावत ने जांच के निर्देश दिए थे लेकिन नगर परिषद द्वारा इस मामले में अभी जांच पूरी नहीं की गई है। नगर परिषद अधिकारियों का कहना है कि अभी उन्हें वायरल ऑडियो सैंपल ही नहीं मिल पाया है। इसके अलावा नगर परिषद के ईओ अभय कुमार यादव की ड्यूटी भी चुनाव में लगी हुई है जिसकी वजह से कथित ऑडियो की जांच अभी पूरी नहीं हो पाई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप