जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ : रेलवे ट्रैक पर हादसे थम नहीं रहे हैं। अब फिर से दो लाेगों की रेलवे ट्रैक पर जान चली गई। कुल दो दिनाें के अंदर रेलवे क्षेत्र में तीन की मौत हुई है, इनमें से दो की पहचान नहीं हो सकी है। हर महीने अकेले बहादुरगढ़ जीआरपी थाना क्षेत्र में ही आठ से ज्यादा लोगों की जान रेलवे ट्रैक पर चली जाती है। कहीं लापरवाही होती है तो कहीं हड़बड़ी में ये हादसे हाेते हैं। अब जिन दो लोगों की मौत हुई है। उनमें एक 18 वर्षीय अजीत था।

वह अपने पिता अशोक कुमार के साथ लोहे की फैक्ट्री में काम करता था और दो भाइयों में बड़ा था। यह परिवार मूल रूप से उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले के रंगवा गांव का रहने वाला है। मृतक अजीत की मां तो गांव में ही है, जबकि वे पिता-पुत्र यहां रोजी-रोटी कमाने आए थे। बताया गया है कि परनाला फाटक के नजदीक रेलवे ट्रैक पार करते समय अजीत ट्रेन की चपेट में आ गया और उसकी दर्दनाक मौत हो गई। पुलिस ने घटना को लेकर रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

शव को पोस्टमार्टम के बाद वारिसों को सौंप दिया गया। दूसरी ओर छाेटूराम नगर के नजदीक रेलवे ट्रैक के साथ एक युवक का शव मिला। मृतक की पहचान नहीं हो सकी है। महिला जांच अधिकारी नरेश कुमारी ने बताया मृतक की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं।

उसके शरीर पर चोट का निशान तो नहीं मिला। ऐसे में यह स्पष्ट नहीं है कि वह ट्रेन की चपेट में आया या फिर मौत की कुछ और वजह रही। अनुमान है कि मरने वाले की उम्र करीब 35 वर्ष रही होगी। बता दें कि एक दिन पहले भी रेलवे ट्रैक के साथ एक युवक का शव मिला था। उसकी भी पहचान नहीं हो सकी है।

छोटूराम नगर के पास फुट ओवर ब्रिज की दरकार

लोगों का कहना है कि बहादुरगढ़ में टीकरी बार्डर के पास औद्योगिक क्षेत्र है। यहां पर लगभग एक लाख कामगार काम करते हैं। इनमें से बड़ी संख्या में कामगार छोटूराम नगर, परनाला के आसपास रहते हैं। ये दोनों ही जगह रेलवे लाइन से सटी है। ऐसे में रोजाना बड़ी संख्या में लोग छोटूराम नगर के पास से रेलवे ट्रैक पार करते हैं। ऐसे में ज्यादातर हादसे इसी जगह पर होते हैं। यहां पर फुट ओवर ब्रिज की मांग की जा रही है।

लोगों को किया जा रहा है जागरूक : एसएचओ

राजकीय रेलवे थाना प्रभारी होशियार सिंह का कहना है कि रेलवे ट्रैक को पार करने में सावधानी बरतनी होती है। इसमें बहुत से लोग लापरवाही करके जान जोखिम में डालते हैं। इसी कारण रेलवे ट्रैक पर हादसे ज्यादा होते हैं। इस बारे में लोगों को जागरूक किया जाता है कि रेलवे लाइन को नियमानुसार और पूरी सावधानी से ही पार करें।

Edited By: Manoj Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट