जागरण संवाददाता, सिरसा। ऐलनाबाद के विधायक अभय सिंह चौटाला ने बुधवार को ऐलनाबाद हलके के विभिन्न गांवों का धन्यवादी दौरा किया। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों की समस्याएं जानी और उनका निदान करने का आश्वासन दिया। इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत के दौरान इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला ने कहा कि सरकार ने फैसला किया है कि जिसकी दो लाख इनकम होगी उसे पेंशन नहीं देगी। पेंशन देने का काम चौधरी देवीलाल ने शुरू किया था और इनेलो चौधरी देवी लाल का लगाया हुआ पौधा है।

हम किसी कीमत पर पेंशन नहीं कटने देंगे। अगर सरकार ने इस तरह का प्रयास किया तो इनेलो बड़ा आंदोलन करेगी।उन्होंने कहा कि सरकार एक नया कानून बना रहे हैं जिसके तहत किसान की जमीन को डिप्टी कमिश्नर जब चाहेगा ले लेगा। उन्होंने कहा कि यह जिम्मेवारी कांग्रेस की बनती थी जब बिल लेकर आए उसका विरोध करते। लेकिन यह कांग्रेसी बीजेपी से मिले हुए हैं।

सरकार ने किसानों के साथ बैठकर के फैसला दिया था कि उनके मुकदमे वापस होंगे अगर मुकदमे वापस नहीं लिए तो आंदोलन दोबारा खड़ा होने में देर नहीं लगेगी। अरे सिंह चौटाला ने कहा कि युवाओं को 75% आरक्षण देना युवाओं को बहकाने की बात है। किसी भी नौजवान को 75% आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा।

पंजाब विधानसभा चुनाव पर अभय सिंह चौटाला ने कहा कि उनकी पार्टी शिरोमणि अकाली दल बादल का समर्थन करेगी और पंजाब में उनके पक्ष में पार्टी कार्यकर्ता जनसंपर्क करेंगे। पंजाब में बादल की सरकार बने इसके लिए सब की जिम्मेवारी लगा रहे हैं।

आम आदमी पार्टी द्वारा भगवंत मान को मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित किए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए अभय चौटाला ने कहा कि यह उनकी पार्टी का फैसला है कि वह किसे प्रत्याशी बनाती है लेकिन भगवंत मान के बारे में उन्हें ज्यादा बताने की जरूरत नहीं है। खुद अरविंद केजरीवाल ने स्वयं बयान दिया और कहा कि मुझे खुशी है कि भगवंत मान ने फैसला कर लिया है कि वह शराब नहीं पिएंगे।

अभय चौटाला ने कहा कि अगर कोई व्यक्ति पार्लियामेंट में शराब पीकर जाए और वहां जाकर के कोई बात रखें तो लोग उस पर कटाक्ष करें उसका मजाक उड़ाए। राजनीति में यह अच्छी बात नहीं है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक व्यक्ति को बहुत चीजों का ध्यान रखना पड़ता है उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं कहते कि शराब ना पीयो लेकिन शराब पीकर पार्लियामेंट्री या असेंबली में नहीं जाना चाहिए। अगर ऐसा व्यक्ति कल को प्रदेश के मुख्यमंत्री पद का कैंडिडेट बन जाता है तो उस प्रदेश का क्या हाल होगा यह आप अंदाजा लगा सकते हैं।

अभय चौटाला ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र ऐलनाबाद के अनेक गांवों में पीने के पानी की समस्या है सरकार ने ग्रामीणों पर पानी का बिल भी लगा दिया है वह इस समस्या के समाधान के लिए अधिकारियों से बातचीत करेंगे साथ ही मुख्यमंत्री के समक्ष भी यह समस्या रखेंगे।

Edited By: Manoj Kumar