जागरण संवाददाता, हिसार: लाला लाजपत राय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में कोरोना के चलते 50 फीसद टीचिग व नॉन टीचिग स्टॉफ को घर से काम करने के आदेश दिए गए हैं। तो बाकी के कर्मचारी कार्यालय आकर काम करेंगे। इसके साथ ही सभी कर्मचारियों के बीच गैप रखने के लिए कहा गया है। वित्तीय वर्ष समाप्ति को लेकर कर्मचारियों को बुलाया जा रहा है। इसके साथ ही स्नातक व परास्नातक पाठ्यक्रमों में परीक्षाएं समाप्त कर दी गई हैं।

----------------

एचएयू में टहलने आए लोगों को लौटना पड़ा वापस

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में हर रोज सैकड़ों शहरवासी सुबह व सायं को टहलने आते हैं। मगर इस पर भी कोरोना का असर देखने को मिल रहा है। कोरोना को देकर एचएयू को बाहरी लोगों के लिए पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। ऐसे में शुक्रवार सुबह लोग जब एचएयू के गेट पर पहुंचे तो उन्हें वापस लौटना पड़ा। इसके साथ ही यही हाल सायं के समय देखने को मिला। बिना आईडी कार्ड के किसी को भी कैंपस में दाखिल ही नहीं होने दिया जा रहा है।

---------------------

शिक्षक फोन कर विद्यार्थियों को दे रहे सुझाव

कोरोना को लेकर शिक्षण कार्य पूरी तरह से प्रभावित है। ऐसे में कई शिक्षकों के बाद विद्यार्थियों के फोन आ रहे हैं। क्योंकि दो महीनों में फाइनल परीक्षाएं होनी हैं, ऐसे में कक्षाएं न लगने से विद्यार्थियों की पढ़ाई पर असर पड़ेगा। इसको लेकर शिक्षक विद्यार्थियों को फोन पर ही गाइड करते दिख रहे हैं। वह उन्हें विभिन्न विषयों के महत्वपूर्ण टॉपिक बता रहे हैं। विद्यार्थी फोन पर ही जानकारी ले रहे हैं। यह हाल एचएयू, लुवास व गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय में देखने को मिल रहा है। इसके साथ ही विवि प्रशासन जल्द ही ऑनलाइन पढ़ाई कराने का रास्ता अख्तियार कर रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस